सुरेशमेहरा,भिवानी:गायत्रीऔरसेवानिवृत्तप्राचार्यरामनिवासशर्माकीशोभावाटिकामेंप्राणदायिनीऑक्सीजनकाभरपूरभंडारहै।इसमेंइन्होंनेअनेकऐसेपौधेलगाएहैंजोघरकोखुशबूसेमहकारहेहैंतोऑक्सीजनभीखूबदेतेहैं।पौताशुभमभीवाटिकाकोहराभराबनानेमेंलगातारसहयोगकरताहै।जबसेवाकार्यमेंथेउससमयभीइन्होंनेस्कूलोंकोहराभराबनायाऔरअपनेघरकोहराभराबनायाहैऔरतीसरीपीढ़ीकोभीयहीसीखदेरहेहैं।अबतकहजारोंपौधेलगाचुकेहैं।

इनपौधोंसेसजीहैइसदंपतीकीशोभावाटिका

सेवानिवृत्तप्राचार्यरामनिवासशर्माऔरउनकीपत्नीगायत्रीदेवीबतातेहैंकिहरियालीकेबीचरहकरजोआत्मिकसंतुष्टिमिलतीहैउसकोशब्दोंमेंबयांनहींकियाजासकता।उन्होंनेअपनीवाटिकाऔरघरमेंएकसौकेलगभगपौधेलगाएहैं।इनमेंमुख्यरूपसेतुलसी,पॉम,मनीप्लांट,गिलोय,ऐलोवेरा,कढ़ीपत्ता,मरुवा,कोडियम,गुलाब,गेंदा,पेटुनिया,रातकीरानीआदिअनेकपौधेलगाएहैं।इसकेअलावासब्जियोंमेंसब्जियोंमेंपोदीना,धनियाभीलगाएहैं।

वर्षभरमेंपांचसेछहहजाररुपयेपौधोंपरकरतेहैंखर्च

रामनिवासशर्माबतातेहैंकिसालभरमेंपांचसेछहहजाररुपयेपौधोंऔरउनकीदेखभालपरखर्चकरतेहैं।इनपौधोंमेंहमरासायनिकखादकाप्रयोगनहींकरतेबल्किजैविकखादकाप्रयोगकरतेहैं।पौधोंकीदेखभालकेलिएप्रतिदिनदोसेतीनघंटेलगातेहैं।वहबतातेहैंकिघरमेंहरियालीबनाएरखनेमेंउनकेपुत्रअजय,उसकीपत्नीमधुशर्मा,पुत्रीउमंगविशेषरूपसेपौधोंकोसंरक्षितकरनेमेंयोगदानदेरहेहैं।

By Elliott