नईदिल्ली,एजेंसियां।रेलवेनेकहाहैकिउसनेगरीबकल्याणरोजगारअभियानकेतहतछहराज्योंमेंपांचलाखसेज्यादामानवदिवसरोजगारसृजितकिएहैं।रोजगारसृजितहोनेवालेराज्योंमेंउत्‍तरप्रदेश,बिहार,झारखंड,मध्यप्रदेश,राजस्थानऔरओडिशाशामिलहैं।केंद्रीयमंत्रीपीयूषगोयलइसकीप्रगतिकीनिगरानीकररहेहैं।इनराज्योंमेंप्रवासीभारतीयोंकोरोजगारदेनेकेलिएरेलवेकीबुनियादीढांचेसेजुड़ींलगभग165योजनाएंचलरहीहैं।

रेलवेनेकहाकिउत्‍तरप्रदेश,बिहार,झारखंड,मध्यप्रदेश,राजस्थानऔरओडिशामेंसंबंधितअभियानकेतहत2,988करोड़रुपएकीलगभग165रेलअवसंरचनापरियोजनाओंकोअंजामदियाजारहाहै।14अगस्ततककेआंकड़ोंकेमुताबिक,इनपरियोजनाओंमें11,296मजदूरोंकोकामदियागया।इसकेलिए1,336.84करोड़रुपयेकीरकमभीजारीकरदीगई।

गोयलनेइसबाबतनोडलअधिकारियोंकीनियुक्तिकरराज्यऔरजिलास्तरसेप्रवासीमजदूरोंकोकामदेनेकानिर्देशदियाथा।साथहीसमयसेउनकोसमयसेभुगतानकाभीनिर्देशदियाथा।बयानमेंकहागयाहैकिरेलवेनेप्रत्येकजिलेऔरराज्यमेंनोडलअधिकारियोंकीनियुक्तिकीहैताकिराज्यसरकारकेसाथकरीबीसमन्वयस्थापितहोसके।केंद्रीयमंत्रीपीयूषगोयलनेक्षेत्रीयस्तरपररेलप्रशासनकोप्रभावीढंगसेकामकरनेकानिर्देशदियाहै।

गोयलनेनिर्देशदियाहैकिप्रवासीमजदूरोंकोइनपरियाजनाओंमेंलगायाजाएऔरभुगतानसुनिश्चितकियाजाए।रेलवेनेकईऐसेरेलकार्योंकीपहचानकीहैजिन्हेंइसयोजनाकेतहतअंजामदियाजारहाहै।बतादेंकिप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेकोरोनामहामारीकेचलतेघरोंकोलौटेप्रवासीमजदूरोंकोआजीविकाउपलब्धकरानेकेलिएगरीबकल्याणरोजगारअभियानकीशुरुआतकीथी।यहयोजनाछहराज्योंके116जिलोंमेंचलाईजारहीहै।

By Ellis