समस्तीपुर।कोरोनासंक्रमणकोरोकनेकोलेकरव्यक्तिगतडिस्टेंसकाख्यालहै।देशमेंलॉकडाउनहै।इसदौरानकामकाजीमहिलाओंकीदिनचर्यासिमटगईहै।महिलाओंकीमानेंतोह्यूमैनडिस्टेंसीबनाएरखनेकेलिएघरोंमेंकैदहोनाहैतोइसेअपनेतरहसेफुलएंटरनमेंटक्योंनकियाजाए।कुछनयाकरें,कुछडिफरेंटकरें।खानेमेंनयाआजमाएं।

फैशनडिजायनरदलसिंहसरायकेरामपुरजलालपुरकीअर्चनाकुमारीकहतीहैंकिसामान्यदिनोंमेंकामकाजकेलिएबाहरआना-जानालगारहताहै।इनदिनोंघरमेंफ्रीहैंऔरउनकीशुरूसेहीआध्यात्मिककिताबेंपढ़नेमेंरुचिरहीहै।बेशकयेकिताबेंवहरोजानापढ़तीहैं,परइनदिनोंकिताबोंकोपढ़नेकासमयबढ़ादियाहै।अबतीनसेचारघंटेतकयेकिताबेंपढ़रहीहैं।इसकेसाथहीकिचनमेंकूकिगकरतीहैं।दिनचर्याकोबेहतरबनानेकेलिएसमय-सारणीबनाईहै।उसीकेहिसाबसेघरोंमेंरहतेहुएहीसबकुछऑफिसकीतरहकरतीहैं।

बच्चोंकेसाथव्यतीतकररहींसमय

विद्यापतिनरप्रखंडकीशिक्षिकारेणुकुमारीबतातीहैंकिवहअपनीदिनचर्याकोअपनेबच्चोंकेसाथबितानेपरज्यादाफोकसकररहीहैं।बतातीहैकिपतिराजेशपंडितपेशेसेडॉक्टरहैं।वहहमेशाअस्पतालमेंरहतेहैं।वहभीस्कूलचलीजातीथीं।इसकारणबच्चोंकेसाथसमयकमदेपातीथीं।अबलॉकडाउनहोनेकेकारणबच्चोंकेसाथसमयव्यतीतकरपातीहैं।बच्चोंकीपंसदकीडिशयूट्यूबपरदेखकरबनातीहैं।

By Ellis