बगहा।रमेशमहतोबीतेदोदिनपहलेहीदिल्लीसेलौटेहैं।दिल्लीकीस्थितिकोदेखचुकेरमेशकाकहनाहैकियहांभीदुश्वारियांकमनहींहै।हालांकिहमजांचमेंपूरीतरहस्वस्थहैं।पर,यहांरोजगारकीसमस्यादिखरहीहै।वहींशमशेरभीमहाराष्ट्रकेनासिकसेलौटाहै।कहताहैकिआनेमेंकिसीतरहकीसमस्यानहींहुईहै।पर,अभीआगेकीपरिस्थितियोंकेबारेमेंसोचकरपरेशानहूं।बतादेंकिबीतेकुछदिनोंसेकोरोनाकेदूसरेदौरकास्ट्रेमअपनेचरमपरहै।इसकेचपेटमेंकईलोगआचुकेहैं।बढ़तेखतरेकोलेकरमहाराष्ट्रकेकईहिस्सोंवदिल्लीमेंलॉकडाउनहै।गुजरात,मध्यप्रदेश,यूपीजैसेराज्योंमेंभीस्थितिकाफीबिगड़रहीहै।जिसकेकारणबीतेसालकीतरहहालतबनतेजारहेहैं।ट्रेनवबसबंदहोनेवरोजगारठपहोनेकेभयसेप्रवासीएकबारफिरसेदूसरेराज्योंसेलौटरहेहैं।हालांकिइसमेंकुछलोगकोरोनासेसंक्रमितभीमिलरहेहैं।अगरआंकड़ोंकीबातकरेंतो,अभीतक80सेऊपरप्रवासियोंमेंइसकीपुष्टिहुईहै।जिनकोउनकेघरोंमेंहोमक्वारंटाइनमेंरखागयाहै।स्थानीयस्तरपरकोईकेंद्रनहींबनायागयाहै।---------------------------------लापरवाहीसेहोसकतीहैस्थितिभयावह----------------------------कोरोनाकासंक्रमणजिसरफ्तारसेबढरहाहै।उससेस्वास्थ्यविभागभीपरेशानहै।पर,इसकेप्रसारकीमुख्यवजहलोगोंकाइसकेप्रतिलापरवाहहोनाहै।सब्जीमंडीवफलकीदुकानोंपरउमड़नेवालीभीड़।जिसमेंसरकारीगाइडलाइनकापालननहींहोताहै।किसीकेपासमास्कनहींदिखाईदेतातो,शारीरिकदूरीकीभीधज्जियांउड़तीदिखाईदेतीहैं।जिसकेकारणप्रसारबढ़नाआमहै।

इसबारेमेंप्रभारीथानाध्यक्षनीतेशकुमारनेबतायाकिसब्जीमंडीकोकोरोनाकालतककेलिएअर्जुनविक्रमशाहस्टेडियममेंशिफ्टकरनेकीतैयारीचलरहीहै।हालांकिभीड़भाड़नाहो,साथहीकोरोनागाइडलाइनकापालनहोइसकाप्रबंधकियाजाताहै।इसबारेमेंसमाजसेवीसुशीलछापोलियाकाकहनाहैकिलोगोंकोभीइसकाध्यानरखनाचाहिए।एडवोकेटश्यामनारायणपांडेयकाकहनाहैकिआजतकलोगोंमेंइसकोलेकरजागरूकतानहींआईहै।----------------------------------ट्रेसकेलिएकंटेनमेंटजोनमेंचलरहाहैजांचकार्य

---------------------------------पॉजिटिवकेसोंकेसंख्याबढ़नेकेसाथहीपहलेकीतरहइसबारभीकंटेनमेंटजोनमेंजांचचलरहीहै।जिससेनएसंक्रमितोंकोट्रेसकियाजासके।समयसेदवाउपलब्धकराईजासके।इससेसंक्रमणकेचेनकोतोड़नेमेंमददमिलेगी।आसपासकेलोगभीसुरक्षितरहेंगे।बतादेंकिस्थानीयपीएचसीमेंकैंपकेमाध्यमसेलगातारजांचकाकार्यहोरहाहै।इसकेअलावाहरिनगररेलवेस्टेशनपरभीयहकार्यचलरहाहै।-------------------------चारकेंद्रोंपरचलरहाटीकाकरण-----------------------गुरुवारकोनगरवप्रखंडकेचारकेंद्रोंपरटीकाकरणकाकार्यचलरहाहै।जिसमेंपीएचसीकेअलावाअतिरिक्तप्राथमिकीस्वास्थ्यकेंद्रबखरी,नवगांवावखटौरीमेंलोगोंकोटीकादियाजारहाहै।जिसकेलिएखटौरीमें100,नवगांवामें80,बखरीमें80डोजभेजीगईहै।पीएचसीकेप्रभारीचिकित्सापदाधिकारीडॉ.चंद्रभूषणनेबतायाकि650डोजवैक्सीनप्राप्तहै।जिसमेंसेशेषवैक्सीनपीएचसीमेंलोगोंकोदीजारहीहै।---------------------लोगोंमेंहैउत्साह----------------------वैक्सीनलेनेकेबाद75वर्षीयब्रजकिशोरप्रसादनेबतायाकियहबहुतजरूरीहै।सभीकोवैक्सीनअवश्यलेनीचाहिए।इसकेबारेमेंचाहेंजितनेभ्रमफैलाएजारहेहैं।पर,यहआसानहै।साथहीकिसीतरहकाइसकाकोईअतिरिक्तप्रभावभीनहींदिखरहाहै।बतायाकियहसुरक्षितवअसरदारहै।-------------------कईबारहोचुकाहैवैक्सीनेशनकाकार्यप्रभावित-------------------बतादेंकिबीते15जनवरीसेहीटीकाकरणकाकार्यचलरहाहै।पर,इसक्रममेंयहकार्यकईबारप्रभावितहुआहै।इसकामुख्यकारणसमयसेजिलासेवैक्सीनकाउपलब्धनहींहोनाबतायागयाहै।कोरोनाकेकहरकेबीचवैक्सीनेशनकाकार्यभीलगातारचलरहाहै।जिसमेंटीकाकेअभावमेंकईबारइसकोरोकनापड़गया।प्रभारीचिकित्सापदाधिकारीनेबतायाकिजिसअनुपातमेंजिलासेवैक्सीनकीडोजप्राप्तहोतीहै।उसीकेअनुसारटीकाकेंद्रोंपरभेजाजाताहै।

By Finch