नईदिल्ली[वीकेशुक्ला]।उपराज्यपालकेअधिकारोंकोबढ़ानेवालाविधेयकबुधवारकोराज्यसभासेभीपासहोजानेकेबादअबदिल्लीकीसत्तामेंटकरावकीआशंकाबढ़गईहै।इसविधेयककेपासहोनेकेबादअबसारीशक्तियांउपराज्यपालकेपासचलीजाएंगी।यहांतककिविधानसभामेंप्रस्तावयाविधानसभाकीसमितियोंकोभीकार्रवाईकेलिएउपराज्यपालसेअनुमतिदेनीहोगी।

वहीं,आदमीपार्टीनेअपनेतेवरोंसेसाफकरदियाहैकिवेचुपहाेकरबैठजानेवालोंमेंशामिलनहींहैं।विधेयकपासहोजानेकेबादजिसतरहसेआपसरकारकीतीखीप्रतिक्रियाआईहै।उससेसाफहोरहाहैकिदिल्लीमेंपहलेवालेहालातदिखाईदेंगे।

दिल्लीकीराजनीतिकस्थितिकीबातकरेंतोआमआदमीपार्टी2013मेंपहलीबार49दिनसत्तामेंरहीथी।उसकेबाद2015मेंहुएचुनावमेंपूर्णबहुमतसेसत्तामेंजरूरआईथी।मगरसरकारके2018तकमहत्वपूर्णकरीबतीनसालटकरावमेंहीखराबहोगएथे।सरकारमेंकामठपहोगयाथा।

अधिकारीमंत्रियोंकीबैठकोंमेंनहींजातेथे।विभागप्रमुखफाइलेंसीधेउपराज्यपालकेपासभेजतेथे।विभागकेमंत्रीकोपताभीनहींहोताथाकिफलांफाइलकहांहै।उससमययहअंदेशालगायाजाताथाअबअगलेदिनकिसमुद्देपरविवादहोगा।उससमयदिल्लीसरकारअपनेकाेपूरीसरकारमानतीथीऔरउपराज्यपालकार्यालयकहताथाकिहमसेस्वीकृतिलो।ऐसेमाहौलमेंनौकरशाहीबीचमेंपिसरहीथी।ऐसेमेंजोअधिकारीपालेकेइधरयाउधरदिखे,उन्हेंभीकिसीनकिसीतरहसेपरेशानीउठानीपड़ीथी।

उपराज्यपालकीशक्तियांबढ़नेकेबादअबटकरावकीपूरीसंभावनाहै।हालांकिपिछलेकुछमाहमेंदेखेंतोदिल्लीकीसरकारभीअबटकरावसेबचरहीथी।क्योंकिदिल्लीमेंसभीकामहोरहेथे।उपराज्यपालकार्यालयसेभीसरकारकोसहयोगमिलजारहाथा।पिछलेतीनसालोंमेंसरकारकीकोईबड़ीयोजनानहींरुकीहै।मगरअबऐसानहींमानाजारहाहै।

By Doyle