होशियारसिंह,कनीना:

जिलाकेगांवगुढ़ानिवासीजयपालयादवगोसेवककेसाथस्वरोजगारकीदिशामेंदूसरोंकेलिएप्रेरणाकास्त्रोतबनेहुएहैं।वेनकेवलघरमेंगायपालकरगोसेवाकेसाथअपनेपरिवारकाभरणपोषणकररहेहैंबल्कि21व्यक्तियोंकोरोजगारभीदेरहेहैं।कभीछहगायोंसेआरंभकियागयाअपनारोजगारआज250गायोंतकपहुंचगई।जयपालकाकहनाहैकिप्रतिमाहतीनसेचारलाखरुपयेतककीआयहोजातीहै।खुदबेरोजगारथेकितुदियारोजगार:

बीएससीतककीपढ़ाईकरनेकेबादवर्ष2008मेंजयपालनेनौकरीमेंप्रयासकरनेकेबजायशौककेरूपमेंछहगायेपालीऔरआजसंख्या250पहुंचगईहै।21व्यक्तियोंकोजिनमेंराजस्थानएवंक्षेत्रकेलोगोंकोरोजगारदियाहुआहैजोगायोंकीसेवाकररहेहैं।उन्होंनेबतायाकिवर्तमानमेंतीनदेशीगायेजिनमेंएकथारपारनस्ल16लीटरदूधतोएकसाहिवाल17लीटरदूधतथाएकहरियाणवीनस्लजोदसलीटरतकदूधदेरहीहै।इसकेअलावापांचजर्सीतथा150होलस्टीननस्लकीहैं।जयपालकहतेहैंकिसबकुछठीकरहातोदिवालीतकबड़ागोशालाकेंद्रस्थापितकरओटोमेटिकदूधदुहनेवालीमशीनलगानेकाप्रयासरहेगा।वर्तमानमेंदूधदोहनेकेलिएदोमशीनसेकरीबदोघंटोंमेंसभीगायोंकादूधदोहलेतेहैं।प्रतिदिनअमूलजैसीडेयरीसहितकईडेयरियोंमेंतीनहजारलीटरप्रतिदिनदूधभेजरहेहैं।अभीड्राइसीजनहोनेसेदूधकमहैजोअगस्तमेंबढ़करपांचहजारलीटरतकहोनेकीसंभावनाहै।

परिवारकृषिऔरपशुपालनसेजुड़ाहै:जयपालकीभाभीनीतूसिंहयादवकोसोनीपतकेगन्नौरमेंआयोजितएग्रीलीडरशिपसम्मिटमेंराष्ट्रपतिरामनाथकोविदकेहाथोंकिसानरतनपुरस्कारप्राप्तकरचुकीहैं।उन्हेंडेयरीएवंजैविकखादकेक्षेत्रमेंउल्लेखनीययोगदानकेलिएएकलाखरुपयेकाचेकऔरसम्मानपत्रमिलाथा।इससेपहलेभीउन्हेंकईपुरस्कारोंसेनवाजाजाचुकाहै।उन्हें2018कासर्वश्रेष्ठमहिलाडेयरीपुरस्कारमिलाथा।जैविकखादभीमिलरहा:

जयपालयादवकहतेहैंकिगायोंसेदूधकेसाथप्रतिदिनएकपशुसेकरीब20किलोग्रामगोबरप्राप्तहोताहैऔरयहगोबरवहखेतमेंजैविकखादकेरूपमेंउपयोगकरतेहैं।इसकीसहायतासेउन्हेंकिसीप्रकारकाअन्यखादडालनेकीजरूरतनहींपड़ती।

पिताशिक्षककेसाथगोसेवक:जयपालकेपितारावभगवानसिंहसेवानिवृत्तमुख्यअध्यापकगोसेवकभीहैं।वेअपनीपेंशनकाअधिकांशहिस्सागोशालाओंमेंदानकरतेहैं।इसकेअलावाजरूरतमंदकन्याओंकीविवाहपरखर्चकरदेतेहें।वेबतातेहैंकिउन्होंनेकनीनाकीगौशालामेंडेढ़लाखरुपयेभीअधिकदानदेचुकेहैं।

जयपालनेबतायाकिउन्होंनेसरकारसेकिसीप्रकारकीकोईसहायतानहींलीहै।उन्होंनेबतायाकिउनकेपासकमसेकम30लीटरतथाअधिकतम64लीटरदूधदेनेवालीगाएहै।दोसांडभीपालेहुएहैं।करनालडेयरीसंस्थानसहितकईसंस्थानोंकेवैज्ञानिकभीउनकीकार्यप्रणालीकोदेखतेहैं।उन्होंनेबतायाकिदिनभरगायोंकेचारे,खाना,दूधदोहनाएवंअन्यकार्यचलतेरहतेहें।वेकहतेहैंकिपरिवारकेसदस्योंकासाथमिलरहाहैइसलिएवेखुशहालहैं।

By Doyle