जागरणसंवाददाता,मऊ:जनपदकेदोहरीघाटऔरघोसीकीओरजानेवालेयात्रियोंकीमुश्किलेंकमहोनेकानामनहींलेरहीहैं।गोरखपुररूटपरबसोंकेफेरेबढ़ाएजानेकेबादभीयात्रियोंकीपरेशानीकमनहींहुईहै।गोरखपुरकीबसकेलिएयात्रियोंकोबुधवारकीसुबह10बजेकेबाददो-तीनघंटेकाइंतजारकरनापड़ा।काशीवसोनभद्रसेआनेवालीबसोंमेंबैठनेकीभीजगहनहींबचरहीहै।बसेंनहोनेपरयात्रीस्थानीयडिपोप्रबंधनकेखिलाफअपनाआक्रोशव्यक्तकररहेहैं।बसोंकेइंतजारमेंयात्रीरोडवेजसेलेकरगाजीपुरतिराहातकपरेशानहुए।

बरसातशुरूहोनेकेबादमहानगरोंसेलोगोंकीघरवापसीशुरूहोगईहै।यात्रियोंकेआवागमनकाऔसतलगातारघटता-बढ़तारहाहै।भीड़लोकलरूटोंपरजानेकेलिएसीधेरोडवेजबसस्टेशनपहुंचतीहैलेकिनवहांयात्रियोंकीसुविधाकाअबकोईइंतजामनहींहै।पूछताछकरनेपरयात्रियोंकोबसोंकीसहीजानकारीभीनहींमिलपारहीहै।सबसेज्यादायात्रीगोरखपुरवबलियारूटकेलिएनिकलरहेहैं।जिलेकेअधिकांशगांवराष्ट्रीयराजमार्गसंख्या29सेजुड़ेहुएहैं।इसकेचलतेछोटीदूरीकेयात्रियोंकादबावभीसर्वाधिकगोरखपुररूटपरहीहै।वर्जन..

डिपोकेस्तरपरयात्रियोंकोसुविधादेनेकापूराप्रयासचलरहाहै।कभी-कभीजामलगनेकीस्थितिमेंकुछबसेंगाजीपुरतिराहासेबाइपासनिकलजारहीहैं।इसकेचलतेसमस्याहोरहीहै।

-ऊषासिंह,प्रबंधक,मऊडिपो।