जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:कटरीधर्मपुरस्थितराजकीयगोसदनलंबेसमयसेअव्यवस्थाकाशिकारहै।गोसदनवृद्धगोवंशरखनेकेलिएबनाएगएथे,लेकिनअबनगरपालिकापरिषदशहरकेआवाराजानवरोंकोवहांलेजाकरबंदकरवारहीहै।जिससेअव्यवस्थाहोगयीहै।धरपकड़केदौरानगोवंशीचुटहिलहैं।उनकीदेखरेखकीकोईव्यवस्थानहींहै।शहरमेंघूमनेकेदौरानयहजानवरपॉलीथिनवकूड़ाखातेथे,अबउन्हेंवहांसूखाभूसाडालाजारहाहै।

शहरमेंआवाराजानवरोंकीसमस्याकईदशकसेहै।सांड़ोंकीहमलेसेदोलोगोंकीमौतहोचुकीहैऔरकईघायलहुएहैं।इसकेबादनगरपालिकानेगतमाहगोवंशपकड़नेकेलिएठेकादियाथा।ठेकेदारकेलोगएकसप्ताहसेधरपकड़अभियानचलारहेहैं।जिसमेंसैकड़ोंगोवंशपकड़ेजाचुकेहैं।इनमेंसांड़ोंकीसंख्याअधिकहै।गोवंशकोठेकेदारराजकीयगोसदनमेंजाकरबंदकररहेहैं।इसकारणवहांअव्यवस्थाहोगयीहै।गोवंशकेखानेकेलिएसूखाभूसाडालाजारहाहै।पीनेकेपानीकीभीसहीव्यवस्थानहींहै।पकड़ेजानेकेदौरानगोवंशघायलहोजातेहैं।किसीकेसींगटूटगए,तोकिसीकेशरीरपरघावहोगएहैं।इनकेइलाजकीकोईव्यवस्थानहींहै,जिससेदोसांड़ोंकीमौतहोगयी।सांड़गायोंपरहमलाभीकरदेतेहैं।जिनसेबचनेकेलिएवहपरिसरमेंहीभागतीहैं।हालांकिशहरमेंअभीधरपकड़अभियानकाअसरनहींदिखरहाहै।जगह-जगहआवाराजानवरघूमतेरहतेहैं।जिससेलोगोंकीपरेशानीकमनहींहोरहीहै।क्याकहतेहैंजिम्मेदार

एसडीएमसदरवपालिकाकेईओअजीतकुमार¨सहनेबतायाकिजानवरोंकोपकड़नेकेदौरानकाफीदिक्कतहोतीहै,जिससेवहचुटहिलहोजातेहैं।मुख्यपशुचिकित्साअधिकारीसेगोवंशकेइलाजकेलिएकहागयाहै।अन्यव्यवस्थाभीकीजाएगी।नंदीसंकल्पसेनाकेअध्यक्षविक्रांतअवस्थीनेभीइससंबंधमेंएसडीएमसेबातचीतकी।उन्होंनेकहाकियदिगोवंशकीदेखरेखनहींकीगयीतोवहउन्हेंछोड़देंगे।

By Doyle