राहुलगांधीतीनदिवसीयगुजरातयात्रापरहैं.शुरुआतउन्होंनेभरूचसेकी.भारतीयराजनीतिऔरकांग्रेसपार्टीकीराजनीतिमेंभरूचकेस्थानकोकभीभुलायानहींजासकता.

यहांराहुलकेदादाफ़िरोजगांधीकाबचपनगुजराथा.इंदिरागांधीसेशादीकरनेकेबादवोएकबारयहांआएथे.

अहमदपटेलगांधीपरिवारकेइतनेख़ासक्योंहैं?

भरूचकाअबभीउतनाहीमहत्वहैक्योंकिअहमदपटेल,जिन्हेंकांग्रेसमेंचाणक्यकेरूपमेंमानाजाताहै,इसीक्षेत्रकेमूलनिवासीहैं.

सोनियागांधीकेराजनीतिकसलाहकारअहमदपटेल,क्यागुजरातकेचुनावोंकोध्यानमेंरखतेहुएअबराहुलकेलिएभीउतनेहीज़रूरीहोगएहैं?

यहतोकेवलसमयहीबताएगा,लेकिनवर्तमानमें,अहमदपटेलभाजपाकेनिशानेपरहैं.

सूबेकेमुख्यमंत्रीविजयरूपाणीनेअहमदपटेलपरबड़ाआरोपलगातेहुएकहाकिगुजरातएटीएसनेजिनदोचरमपंथियोंकोगिरफ्तारकियाहै,उनमेंसेएकअहमदपटेलकेअस्पतालमेंकामकरताथा.

रूपाणीनेपटेलसेराज्यसभाकीसदस्यतासेइस्तीफ़ादेनेकीमांगकरतेहुएकांग्रेसपार्टीसेइसमुद्देपरस्पष्टीकरणदेनेकोभीकहाहै.

'तोयेसंदेशजाताकिकांग्रेसडूबतासूरजहै'

अहमदपटेलनेआपातकालकेदिनोंमेंअपनाराजनीतिकजीवनशुरूकिया.आपातकालकेबादसाल1977मेंजबइंदिराआमचुनावहारगईथींतोदक्षिणगुजरातमें28वर्षीयपटेलकेभरूचमेंकांग्रेसकोजीतमिलीथी.पटेलउनकुछचुनिंदानेताओंमेंसेथेजोसंसदपहुंचनेमेंकामयाबरहे.लेकिनअहमदपटेलकांग्रेसकीपहलीपंक्तिमें1980और1984केबीचआए.जबइंदिरागांधीकेबादज़िम्मेदारीसंभालनेकेलिएबेटेराजीवगांधीकोतैयारकियाजारहाथा,तबअहमदपटेलराजीवगांधीकेक़रीबआए.राजीवनेपार्टीकेवयोवृद्धनेताओंकीजगहयुवाओंकोअवसरदिए.तबशर्मीलेपटेलकोपार्टीकामहासचिवबनायागया.राजीवगांधीकीहत्याकेबादपटेलराजनीतिकरूपसेपार्टीमेंहाशिएपरआगए.पी.वी.नरसिम्हारावकेसमयउनकाकामकांग्रेसकीकार्यकारिणीकेएकसदस्यतकहीसीमितथा.इसदौरानउन्हेंजवाहरभवनट्रस्टकीज़िम्मेदारीसौंपीगई.अपनेजीवनकालमेंराजीवजवाहरभवनट्रस्टसेभावनात्मकरूपसेजुड़ेथे.इसट्रस्टसेजुड़ावकीवजहसेउन्हेंसोनियागांधीसेक़रीबीसंबंधबनानेकाअवसरमिला,जोतबसार्वजनिकजीवनमेंउतनीसक्रियनहींथीं.90केदशकमें,जबसोनियागांधीराजनीतिकेलिएनईथींतोउन्होंनेअपनेराजनीतिकसलाहकारकेरूपमेंअहमदपटेलकोचुना.पटेलकेवलअपनीपार्टीकेप्रतिवफ़ादारनहींथेबल्किदोदशकोंतकवोइसकेविभिन्नपदोंपरकामभीकरतेरहे.इतनाहीनहीं,उनकीराजनीतिकमहत्वाकांक्षाएंबहुतसीमितथीं.

अहमदपटेलकोहरानेकेलिएइतनीमेहनतक्यों?

अहमदपटेलभरूचज़िलेकेअंकलेश्वरकेपिरामणगांवकेमूलनिवासीहैंऔर1970केदशकसेकांग्रेसमेंसक्रियहैं.

वहवर्तमानमेंराज्यसभाकेसांसदऔरकांग्रेसअध्यक्षसोनियागांधीकेराजनीतिकसलाहकारहैं.भरूचकेलोगउन्हें'बाबूभाई'कहतेहैं.

राजनीतिकविश्लेषकअजयउमटनेबीबीसीसेकहा,"यदिस्वतंत्रताकेबादगुजरातकीराजनीतिमेंकिसीमुस्लिमनेताकानामलियाजाएगा,तोवहनामअहमदपटेलकाहोगा."

अहमदपटेलभरूचसीटसेतीनबारलोकसभाकेसांसदरहेहैं.

लेकिनगुजरातकीराजनीतिमेंसांप्रदायिकध्रुवीकरणकीशुरुआतकेबाद1993केबादउन्होंनेचुनावलड़नाबंदकरदियाऔरराज्यसभाकेसदस्यकेरूपमेंचुनेगए.

विधानसभाचुनावोंसेपहले,भाजपानेअहमदपटेलपरआरोपलगाकरउनपरनिशानासाधा.यहएकराजनीतिकझड़पकाहिस्साहै."

अहमदपटेलएकमुसलमानराजनीतिज्ञहैंलेकिनउनपरआरोपलगायाजाताहैकिउन्होंनेगुजरातमेंमुसलमानोंकेलिएकुछखासनहींकिया.

सामाजिककार्यकर्ताहनीफलकड़ावालाकहतेहैं,"अहमदपटेलगुजरातकेमुसलमानोंकेप्रतिनिधिनहींहैं."

गुजरातकेमुस्लिमसमुदायकाकहनाहैकिअहमदपटेलउनकीमददनहींकरतेऔरमुसलमानोंपरहोरहेअन्यायपरखुलकरबातेंभीनहींकरते.

लकड़ावालानेकहा,"उनकेनाममें'अहमद'है,इसलिएभाजपानेउन्हेंमुसलमानचेहरेकेरूपमेंस्थापितकियाहैक्योंकिइससेवोटकाध्रुवीकरणहोसकताहै."

उन्होंनेकहा,"एहसानजाफ़रीकेबादअहमदपटेलहीएकऐसेमुस्लिमचेहराहैंजोसंसदमेंगुजरातकाप्रतिनिधित्वकरतेआएहैं."

'गुजरातचुनावराहुलकेलिएबड़ासियासीमौकाहै'

पिरामणगांवकेकासिमउनियानेबीबीसीसेकहा,"भरूचकेलोगअहमदपटेलकोबाबूभाईकेनामसेबुलातेहैं.उनकेपिताकोकांतिभाईपटेलकेनामसेबुलायाजाताथा."

अहमदपटेलकोलंबेसमयसेमुस्लिमचेहरेकेरूपमेंदिखानेकाप्रयासचलरहाहै,लेकिनलोगोंनेउन्हेंकांग्रेसनेताकेरूपमेंदेखाहै.

राजनीतिकविश्लेषकअच्युतयाज्ञिकनेबीबीसीसेकहा,"अहमदपटेलकईवर्षोंतककेंद्रीयस्तरपरजुड़ेरहेहैं,एकसमयवेगुजरातप्रदेशकांग्रेसकमेटीकेअध्यक्षथे."

उन्होंनेकहा,"गुजरातकेलोगोंकेलिएअहमदपटेलकांग्रेसकेनेताहैं.लेकिनजबसेहिंदुत्वकीप्रयोगशालाशुरूहुई,उनकीछापकेवलएकमुस्लिमनेताकेरूपमेंबनी."

उन्होंनेकहा,"वर्तमानस्थितिमेंगुजरातमेंस्थानीयस्तरपरउनकाकोईवर्चस्वनहींहै,लेकिनकांग्रेसपार्टीमेंवोएकमहत्वपूर्णनेताहैंक्योंकिवेदिल्लीमेंकांग्रेसकेप्रमुखनेताओंकेक़रीबहैं."

गुजरातचुनावकेपहलेबीजेपीकोपटेलक्योंयादआए?

सीएनएनन्यूज़-18कीसीनियरपॉलिटिकलएडिटरपल्लवीघोषकाकहनाहैकिअगरआपअहमदपटेलकोराजनैतिकरूपसेगिरातेहैंतोआपसोनियागांधीकोठेसपहुंचातेहैं.

वोकहतीहैं,"अहमदपटेलकांग्रेसमेंपहलेगैर-गांधीनेताहैंजिनकोपार्टीमेंअभूतपूर्वसमर्थनमिलाहै.उनकेपाससत्ताकेगलियारेमेंखेलीगईगंदीराजनीतिकीरहस्यमयीजानकारियांहैं."

उन्होंनेकहा,"उन्हेंपार्टीकीगतिविधियोंकोलेकरछोटीसेछोटीबातकीगहरीसमझहै.सोनियागांधीजबराजनीतिमेंनईथींतबसोनियाकेद्वाराकीगईराजनीतिकग़लतियोंकेबारेमेंअहमदपटेलकोपूरीजानकारीहै."

यहीकारणहैकिभाजपासोनियागांधीकेसलाहकारअहमदपटेलकोनिशानाबनाकरकांग्रेसपार्टीकोअस्थिरकरनाचाहतीहै.

(बीबीसीहिन्दीकेएंड्रॉएडऐपकेलिएयहांक्लिककरें.आपहमेंफ़ेसबुकऔरट्विटरपरभीफ़ॉलोकरसकतेहैं.)

By Elliott