जमशेदपुर:टेल्कोगुलमोहरहाईस्कूलकेछात्रअध्ययनकुमार,सांवीवरोहितमुखीनेस्मार्टरोबोटपरियोजनाबनाकरशहरवअपनेस्कूलकानामरोशनकियाहै।उनकामाननाहैकिपरियोजनानिर्माण करना,उसेबनानाअपनेआपमेंएकअनोखाअनभुवथा।

विचारोंकीएकअविश्वसीययात्राथीजिसकेमाध्यमसेबहुतकुछसीखनेकोमिला।उन्होंनेमॉडलबनातेसमयदोउदेश्योंकीप्राप्तिकानिश्चयकियाहैवेहैं-शहरीस्वच्छतावतकनीककास्मार्टकृषिहेतुबेहतरप्रयोग।बीआइटीसिंदरीद्वाराआयोजितराष्ट्रीयहार्डवेयरहैकथॉनप्रतियोगितामेंटेल्कोहाईस्कूलकेछात्राेंनेउत्कृष्ठप्रदर्शनकरतेहुएप्रथमपुरस्कारप्राप्तकियाहै।इसपरस्कूलकीप्राचार्यप्रीतिसिन्हानेप्रसन्नताजाहिरकरतेहुएयहउम्मीदजताईहैकियहअभिनवपरियोजनाअन्य छात्रोंकोनवनिर्माणहेतुप्रेरितकरेगीतथाइससेदेशकेकिसानोंकोमददमिलेगीएवंउनकीजिंदगीखुशहालहोगी।

परियोजनासेकृषिकार्यमेंसहयोगवसाफ-सफाईकरनेमेंमिलेगीमदद

परियोजनामेंस्मार्टरोबोटशामिलहै,जोशहरी-ग्रामीणक्षेत्रोंकोसाफकरताहैतथाबायोडिग्रेडेबलअपशिष्टकोएकत्रकरताहै।इसबायोडिग्रेडेबलकचरेकाउपयोगसर्वोत्तमगुणवत्तावालेखादकेउत्पादनकेलिएकियाजासकताहै।इसखादकोफसलोंकीवृद्धिकेलिएपंजीकृतखेतोंमेंवितरितकियाजासकताहै।बच्चोंनेअपनेप्रोजेक्टमेंनिगरानीकेलिएड्रोनमेंलगाएहैं।

ऊर्जाकेनवीकरणीयस्रोतसेयहसिस्टमअंतिमउत्पादकेउत्पादनकेलिएकचरेकाउपयोगकरताहै।इसपरियोजनाकेनिष्पादनकाउदेश्यहैरोजगारकेसाथ-साथशारीरिकपरिश्रमकोकमकरनाहै।

By Doyle