कानपुर,जेएनएन।बुखारएवंमामूलीसमस्याकेमरीजोंकोसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्र(सीएचसी)औरप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्र(पीएचसी)मेंहीभर्तीकरइलाजकियाजाए।जरूरीहोनेपरहीजिलाअस्पतालमरीजोंकोभेजाजाए।इसीतरहजिलाअस्पतालमरीजोंकोभर्तीकरइलाजकरें,बेवजहमरीजोंकोजीएसवीएममेडिकलकालेजऔरउत्तरप्रदेशआयुर्विज्ञानविश्वविद्यालयसैफईनभेजाजाए।हरजिलोंसेमरीजरेफरकरनेसेइनसंस्थानोंमेंलोडबढ़रहाहै।इससमस्याकोदेखतेहुएअपरनिदेशकचिकित्सास्वस्थ्यएवंपरिवारकल्याणकानपुरमंडलडा.जीकेमिश्रानेसभीजिलोंकेसीएमओएवंजिलाअस्पतालकेसीएमएसकोनिर्देशदिएहैं।

डा.मिश्रानेबतायाकिसीएचसी-पीएचसीकेडाक्टरमरीजोंकोभर्तीनकरतेहुएजिलाअस्पतालभेजदेतेहैं।इसवजहसेजिलाअस्पतालोंकेबेडफुलहोगएहैं।ऐसेमेंजिलाअस्पतालमेंजबमरीजइलाजकेलिएपहुंचतेहैंतोउन्हेंबेडनहोनेकीबातकहतेहुएडाक्टरकानपुरएवंसैफईभेजदेतेहैं।इसवजहसेइनसंस्थानोंमेंमरीजोंकादबावबढ़ताजारहाहै।सामान्यसमस्याकेमरीजोंकोरेफरकिएजानेकीसमस्यासेदोनोंसंस्थानोंकेप्रमुखोंसेअपरनिदेशककोपत्रलिखाथा।इसपरनिर्देशजारीकिएहैं।

बेडनहींतोकोविडबेडकाकरेंइस्तेमाल

अपरनिदेशकडा.जीकेमिश्राकाकहनाहैकिप्रत्येकजिलेकानपुरनगर,देहात,इटावा,औरैया,फर्रुखाबादएवंकन्नौजजिलेकीचार-चारसीएचसीमें10-10बेडकेकोविडएल-वनप्लससेंटरबनाएगएहैं।अगरबुखारकेमरीजोंकीसंख्याबढ़रहीहैतोइनकोविडबेडकाइस्तेमालमरीजोंकेलिएकियाजाए।उनबेडपरमरीजोंकोभर्तीकरइलाजकरें।इसीतरहजिलाअस्पतालभीअपनेयहांइलाजसुनिश्चितकराएं।किसीभीमरीजोंकोबेडकीसमस्याबताकरलौटायानहींजाए।

By Doherty