गोरखपुर,उमेशपाठक:दीपावलीकेमद्देनजरटेराकोटाशिल्पकारोंकीतैयारीलगभगपूरीहोचुकीहै।दीपपर्वकेलिएहीकेवल15तरहकेउत्पादतैयारकिएगएहैंऔरउनकाआर्डरभीमिलचुकाहै।प्रदेशकेबाहरकेशहरोंसेव्यापारियोंनेउत्पादोंकीबुकिंगकराईहैऔरगोरखपुरपहुंचकरउत्पादअपनेसाथलेजारहेहैं।इससीजनमेंदीपावलीतककरीबएककरोड़रुपयेसेअधिकमूल्यकेउत्पादपुणे,अहमदाबाद,हैदराबाद,भोपाल,नागपुर,जयपुर,उदयपुर,बंगलूरू,मुंबईजैसेशहरोंमेंभेजेजारहेहैं।

दीपावलीकोलेकरदोमहीनेपहलेसेहीशुरूहोजातीहैतैयारी

औरंगाबाद,गुलरिहाएवंअन्यटेराकोटागांवोंमेंदीपावलीकोलेकरदोमहीनेपहलेसेहीतैयारीशुरूहोजातीहै।कलशदीप,दोस्तर,तीनस्तरवालेदीप,स्टैंडदीप,नारियलदीप,मछलीदीप,कछुआदीपसहित15तरहकेउत्पादबाहरभेजेजातेहैं।लक्ष्मी-गणेशकीप्रतिमाकाभीआर्डरहोताहै।हालांकियेशिल्पकारछोटीप्रतिमानहींबनातेहैं।इसकेअलावासजावटकेसामानभीबाहरकेव्यापारीपसंदकरतेहैं।लक्ष्मीस्वयंसहायतासमूहकेअध्यक्षएवंऔरंगाबादनिवासीशिल्पकारलक्ष्मीचंदप्रजापतिकाकहनाहैकिइससमयपुणेकीपार्टीआयीहै।आर्डरपहलेसेमिलचुकाहैऔरवेसामानलेकरजाएंगे।हमेंउत्पादपहुंचानानहींपड़ता।दूसरेशहरोंकेव्यापारीभीआर्डरदेचुकेहैं।

एकमहीनेमेंहीबेचनाहोताहैदीपावलीकेसामान

व्यापारी60फीसदसजावटकेसामानजैसेहाथी,घोड़ा,पालकी,फ्लावरपाटआदिलेजातेहैंऔर40फीसदसामानदीपावलीसेजुड़ेलेतेहैं।दीपावलीकेसामानएकमहीनेमेंबेचनाहोताहै।एकव्यापारीकरीबएकट्रकउत्पादलेकरजाताहै।दूसरेदेशोंमेंभीअपनीकलाकाहुनरदिखाचुकेऔरंगाबादकेगुलाबचंदप्रजापतिकहतेहैंकिदीपावलीमेंटेराकोटाकीबनीनारियलरखाकलश,विभिन्नप्रकारकेडिजाइनरदीपकतथामूर्तियोंकीबिक्रीअधिकहोतीहै।देशकेविभिन्नप्रदेशोंसेव्यापारियोंनेइसकेलिएआर्डरदियाहै।गुलरिहाकेराजनप्रजापतिनेबतायाकिअहमदाबाद,हैदराबादएवंअन्यशहरोंकेव्यापारीउत्पादलेगएहैं।करीब15तरहकेउत्पादभेजेगएहैं।दीपावलीसेजुड़ेकरीबचारट्रकउत्पादअभीतकभेजेजाचुकेहैं।

स्थानीयबाजारकेलिएबनाएजादीप

टेराकोटाशिल्पकारोंकाकहनाहैकिदीपावलीपरउनकीओरसेतैयारअधिकतरउत्पाददूसरेशहरोंमेंजातेहैं।स्थानीयस्तरपरमांगकेअनुसारडिजाइनरदीयाआदितैयारकियाजाताहै।मूर्तिआर्डरपरहीबनाईजातीहै।कुछशिल्पकारछोटेदीयेबनानेमेंजुटेहैं।टेराकोटागांवोंमेंकरीबपांचलाखसेअधिकदीयेतैयारकिएजाएंगे।

By Edwards