बक्सर:नगरपरिषदक्षेत्रकेवार्डनंबरसोलहस्थितबुधनपुरवाकीस्थितिकाफीखराबहै।लगभगसाढ़ेआठलाखकीलागतसेबनीगलीकोनलजलयोजनाकेदौरानसंवेदकनेपूरीतरहतोड़कररखदियाहै।क्षेत्रकेकालीस्थानकेपासमुख्यनालाबना।इससेपूरेक्षेत्रकीनालियोंकेपानीनिकासीकीउम्मीदजताईजारहीथीलेकिन,सामान्यभूमिसेनालाकानिर्माणऊपरहोनेसेक्षेत्रकापानीनालेकेरास्तेनिकलनहींपाता।ऐसेमेंकालीमंदिरकेपाससालोंभरजलजमावलगारहताहै।

दरअसल,जिससमस्याकेनिदानकेलिएनगरपरिषदनेवहांनालाकानिर्माणकरायालेकिन,कोईफायदानहींहुआ।इसकेअलावालगभगसौसेज्यादाघरोंकेनालेकापानीखालीपड़ीजमीनमेंबहताहै।इसपरिस्थितिमेंइसक्षेत्रमेंलगभगसालोंभरजलजमावरहताहै।इससेमच्छरोंकाप्रकोपदिनमेंभीबनारहताहैतथालोगोंकोभारीमुश्किलोंकासामनाकरनापड़ताहै।औरतोओरक्षेत्रमेंविद्युतपोललगेकाफीसमयहोगयालेकिन,उसउसपरतारनहींटंगपाया।इससेस्थानीयलोगोंकोअपनेघरोंमेंबिजलीजलानेकेलिएआधेकिलोमीटरदूरसेतारखींचकरलानापड़ताहै।इससेतारटूटनेकीसमस्याबनीरहतीहै।बीससालमेंनहीलगाएकभीचापानलक्षेत्रकामोहल्लानगरपरिषदकेवार्ड16मेंआताहै।प्रत्येकपांचवर्षपरवार्डपार्षदतोक्षेत्रकेनिवासियोंनेचुना।उन्हेंवोटभीदिए।लेकिन,सालदरसालसमयटलतेगया।बावजूद,अबतकजरूरतकेस्थानोंपरचापाकलनहींलगपाया।इससेपेयजलकीसमस्यानिम्नवर्गकेलोगोमेंबनीहुईहै।

आंगनबाड़ीकेकंधेपरशिक्षाकीव्यवस्थाक्षेत्रमेंशिक्षाकेलिएदोआंगनबाड़ीकेंद्रहैं।वहांकोईसरकारीविद्यालयनहीहै।नवसृजितप्राथमिकविद्यालयबुधनपुरवाकेनामसेविद्यालयहै।लेकिन,वहमठियामेंएकविद्यालयमेंमर्जहोगयाहै।इसपरिस्थितिमेंक्षेत्रकेबच्चोंकोदूसरेवार्डमेंजाकरपढ़ाईकरनीपड़तीहै।पोलपरलगीहैलाइटपरजलतीनहींक्षेत्रकेअधिकांशविद्युतपोलपरलाइटलगीहै।लेकिन,वहजलतीनहीहै।स्थानीयलोगोनेवार्डपार्षदवनगरपरिषदसेशिकायतकी।लेकिन,अबतकबल्बठीकनहीहोपाया।इसवजहसेरातमेंलोगोकोमुख्यसड़कसेघरोंतकपहुंचनेमेंभारीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहै।कईक्षेत्रकीसड़केंअभीभीखराबहैं।इसवजहसेअंधेरेमेंवाहनचालकसमेतपैदलचलनेवालेअक्सरगिरकरजख्मीहोजातेहैं।

-नपकर्मीनियमितसाफ-सफाईनहींकरतेहैं।ऐसेमेंखुदमोहल्लेकेलोगोंनेगलियोंकोसाफसुथरारखनेमेंसहयोगकरनाशुरूकरदियाहै।पिछले6माहसेविद्युतपोलपरलगीलाइटखराबहैं।इसकीशिकायतकरनेकेबादभीठीकनहींहोरहा।

संतोषशर्मा-उम्र65पारकरचुकीहै।अबतकउनकानतोवृद्धापेंशनबनपायाऔरनहीघरकेसदस्योंकाराशनकार्डबनपायाहै।जबकि,वार्डपार्षदसमेतअनुमंडलकार्यालयऔरनगरपरिषदसेभीगुहारलगाचुकीहैं।

-नलजलयोजनाकार्यकेदौरानपिछले1माहसेसंवेदकनेसड़ककोउखाड़कबाडकररखदियाहै।इससेकाफीपरेशानीहोरहीहै।मोहल्लेकेलोगोंकोअपनेघरकोरोशनकरनेकेलिएआधाकिलोमीटरदूरसेविद्युतकातारलेकरआनापड़रहाहै।

वीरेंद्रनाथउपाध्याय-पतिकीपिछलेसालसड़कदुर्घटनामेंमौतहोगई।कोईउनकासहारानहींहै।पिछलेछहमाहसेविधवापेंशनबनवानेकेलिएप्रखंडकार्यालयकाचक्करकाटरहीहै।लेकिनउसपरअभीतककोईसुनवाईनहींहै।उनकेसमक्षपेटभरनाभीबड़ीचुनौतीहै।

-वेकालीमंदिरकेपुजारीहैं।मंदिरकेचारोंतरफसालोंपरजलजमावरहताहै।इससेमंदिरतकआने-जानेवालेलोगोंकोकाफीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।सबसेज्यादापरेशानीअक्टूबरमाहमेंदुर्गापूजाकेसमयहोतीहै।

शशिभूषणओझा-नलजलयोजनाकेदौरानसड़केंखराबहोगईहै।उन्हेंसुधारनेकीजहमतकोईनहींउठारहाहै।शामहोतेहीमोहल्लेमेंअंधेरापसरजाताहै।इसवजहसेअंधेरेमेंरास्तेसेगुजरनेमेंभारीपरेशानीहोतीहै।छोटे-छोटेबच्चेगिरकरजख्मीहोतेहैं।

अन्नपूर्णादेवी