मैनपुरी,जागरणसंवाददाता।सरकारीलापरवाहीउजागरकरतेहुएदैनिकजागरणनेसातजुलाईकेअंकमें'सिस्टमकेकैंसरसेदमतोड़रहीइलाजकीअर्ज'खबरप्रकाशितकी।24घंटेभीनबीतेकिहरकतमेंआएप्रशासननेइसखबरकासंज्ञानलेलिया।डीएमनेसमीक्षाकीतोजिलेकीसभीतहसीलोंमें113प्रार्थनापत्रलंवितमिले।फटकारलगातेहुएसप्ताहभरकेअंदरसभीकीआख्याभेजनेकेनिर्देशदिएहैं।

जनप्रतिनिधियोंद्वारागंभीरबीमारियोंसेपीड़ितजरूरतमंदोंकीमददकेलिएप्रार्थनापत्रतहसीलोंकोभेजेजातेहैं।लेखपालोंकीरिपोर्टलगनेकेबादप्रशासनिकअधिकारियोंसेहोतेहुएयेमुख्यमंत्रीकार्यालयतकपहुंचतेहैं।जहांसेजरूरतमंदोंकोआर्थिकसहायताउलपब्धकराईजातीहै।लेकिन,ऐसेप्रार्थनापत्रोंकोतहसीलोंसेबाहरआनेहीनहींदियागया।जागरणनेजरूरतमंदोंकीपुकारकोआवाजदेतेहुएप्रमुखतासेखबरप्रकाशितकी।

रविवारकोजिलाधिकारीपीकेउपाध्यायनेखबरकासंज्ञानलेतेहुएतहसीलदारोंऔरउपजिलाधिकारियोंकेसाथसमीक्षाबैठककी।डीएमनेकहाकिपूरेजिलेमें113प्रार्थनापत्रोंपरसंज्ञानहीनहींलियागयाहै।सर्वाधिक32प्रार्थनापत्रभोगांवतहसीलमेंलंबितपडे़हैं।करहलतहसीलमें25,किशनीमें18,घिरोरऔरकुरावलीमेंक्रमश:15-13औरसदरतहसीलमें12प्रार्थनापत्रधूलफांकरहेहैं।डीएमनेसभीएसडीएमकोनिर्देशदेतेहुएकहाकिइनप्रार्थनापत्रोंपरअपनीआख्यादें,ताकिजरूरतमंदोंकोमुख्यमंत्रीविवेकाधीनकोषसेराहतउपलब्धकराईजासके।