जागरणसंवाददाता,नौसेमरघाट(मऊ):सड़कएकबारकिसीतरहबनजाएतोवर्षोंविभागीयअधिकारीउसकाहालजाननेतकनहींजातेहैं।कुछयहीहालहैबैजापुरसेअमारीस्कूलतकजानेवालेमार्गका।ग्रामीणोंनेविभागीयअधिकारियोंसेलेकरशासन-प्रशासनतकगुहारलगाई,लेकिनसड़ककेमरम्मतकीसुधिनहींलीगई।इससड़कमेंकासिमपुरदलितबस्तीसेलेकरअमारीगांवदलितबस्तीतकजगहजगहगड्ढेजानलेनेपरतुलेहुएहैं।गड्ढोंसेबचनेमेंजरासीभीलापरवाहीहुईतोभयानकपरिणामसामनेआताहै।

एकतोबैजापुरवअमारीप्राथमिकविद्यालयमार्गखुदहीजर्जरहै,दूसरीतरफसड़कपरकईस्थानोंपरटूटकरगड्ढायुक्तहोगईहै।विभागकीओरसेसिर्फकागजपरहीमरम्मतदिखरहाहै।इसकेचलतेलोगोंकासड़कपरचलनादुश्वारहै।लगभगतीनकिलोमीटरकीयहसड़क1993-94मेंबनाईगईथी।मरम्मतकेअभावमेंसड़कजर्जरऔरगड्ढायुक्तहै।क्षेत्रमेंदर्जनोंविद्यालयहोनेकेचलतेछात्र-छात्राएंइसीमार्गसेआतेजातेहैं।हल्कीबरसातमेंसड़कझीलबनजातीहै।बैजापुरदलितबस्तीअंबेडकरपार्ककेसामनेक्षतिग्रस्तहोगईहै।तीनकिलोमीटरसड़कपरदोपहियासवारीतोकिसीतरहचलीजातीहैपरंतुचारपहियावाहनसहीसलामतगुजरजाएवहअपनेकोधन्यसमझताहै।सड़कमेंकईस्थानोंपरगड्ढेइतनेबड़ेहैंकिजरासीअसावधानीहोनेपरखतरनाकसाबितहोजातेहैं।सड़ककईस्थानोंपरखंड-खंडहोगईहै।कहीं-कहींसड़कसेपिचपूरीतरहगायबहोगईहैऔरबड़ेआकारकेपत्थरबाहरनिकलकरबाइकववाहनचालकोंकीमुश्किलबनेहुएहैं।क्षेत्रकेएसकेदूबे,गिरधारीराम,सालेहाखातून,अशोककुमारयादव,राजीवकुमारगुप्ता,हरिशंकरयादवआदिग्रामीणोंनेपीडब्लूडीविभागद्वाराउक्तग्रामीणसड़ककोलिकरोडसेग्रामीणअंचलकोजोड़नेकीकवायदप्रधानमंत्रीसड़कबननेकीजिलाप्रशासनसेइससड़ककानिर्माणशीघ्रकरानेकीमांगकीहै।

By Duffy