बरेली,जेएनएन।शादीकेदोमाहबाददिल्लीसेलापतामहिलाका25सालबादबरेलीमेंहोनेकापताचलानेपरउसकेपरिवारवालोंकोयकीननहींहुआ।दिल्लीसेबरेलीममताआश्रयगृहमहिलाकेस्वजनउसेलेनेपहुंचेतोएकदूसरेकोदेखआंखेछलछलाआईं।स्वजनकाकहनाथाकिउन्हेंतोयकीननहींहोरहाकिवहउसेजिंददेखरहीहैं।इसकेबादममताआश्रयगृहकीइंचार्जनेपेपरवर्कपूराकरनेकेबादमहिलाकोपरिवारकेसाथजानेदिया।

सुभाषविहारपूर्वीदिल्लीनिवासीसवित्रीकीबेटीसोमा51वर्षीयकीशादी25सालपहलेदिल्लीमेंहुईथी।शादीकेदोमाहबादमानसिकस्थितठीकनहींहोनेपरवहघरसेनिकलआई,इसकेबादपरिजनोंनेउसेतलाशकियालेकिनकोईजानकारीनहींलगी।इसकेबादपरिजनहारकरघरबैठगए।बरेलीमेंमिलनेपरमहिलाकोनारीनिकेतनमेंरखदिया।24सितम्बर2014कोमहिलाकेलिएमानसिकमंदितममताआश्रयगृहभेजागया,जहांपरमहिलाकामानसिकचिकित्सालयमेंइलाजचलातोउसकीहालतमेंसुधारहुआ।इसीबीचमनोसमर्पणसंस्थाकेअध्यक्षशैलेषकुमारनेसोमाकीकाउंसिलंगकीतोमहिलानेअपनाएड्रेसबताया।सोमानेबतायाकिदोभाईऔरचारबहनेंहैं।एड्रेसमिलनेपरशैलेषशर्माउसकेघरगएतोउसकेजीवितहोनेकीजानकारीसुनकरपहलेतोपरिवारवालोंकोयकीननहींहुआ।लेकिनबादमेंमहिलासेवीडियोकॉलिंगपरबातकराईऔरफोटोदिखायातोपरिजनबुधवारकोदिल्लीसेबरेलीआए।बरेलीमेंसोमाकोलेनेकेलिएउसकीबहनसावित्री,बहनोईरामनिवासऔरराजकुमारीआए।इसकेबादममताआश्रयकेअधीक्षकनवीनजौहरीनेसारीऔपचारिकताएंपूर्णकरसोमाकोउनकेपरिजनोंकेसुपुर्दकरदिया।सोमाकीबहनसावित्रीऔरराजकुमारीनेबतायाकिबहनसोमाउनकोवापसमिलगईहैतोबहुतखुशहै।

By Dunn