जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:

बारएसोसिएशनमेंजैसे-जैसेमेंबरोंकीसंख्याबढ़ीतोचुनावभीजातीयसमीकरणोंपरहोनेलगे।वर्तमानमेंबारएसोसिएशनमें1276वोटहैं।इनमेंजाटवोटकरीब250हैं,इतनीहीपंजाबीऔरब्राह्माणवोटहैं।अन्यवोटोंकीबातकरेंतोराजपूतवोट150केलगभगहैं।शेषअन्यबिरादरियोंकेवोटहैं।इसबारहुएचुनावमेंयहप्रथाबदलीगई।बलविद्रसैनीकीजीतनेइसमिथककोबदला।उनकेसामनेजाटउम्मीदवारबलविद्रऔरराजपूतसमाजसेउम्मीदवारभानूप्रतापचुनावमैदानमेंथे।जानकारोंकीमानेंतोइसबारचुनावमेंजाटोंनेएकतादिखाई,लेकिनअन्यबिरादरियोंनेभीएकजुटहोकरवोटदी।इसवजहसेबलविद्रकुमारसैनीनेबाजीमारी।बलविद्रसैनीको505वोटमिले।वहीं,भानूप्रतापको411वोटमिले।सबसेकमबलिद्रपालढांडाकोमात्र228वोटोंसेसंतोषकरनापड़ा।

पिछलेचुनावकीबातकरेंतोचुनावमैदानमेंदोजाटउम्मीदवारमैदानमेंथे।इसकेबावजूदभीजाटसमाजकेपवनकुमारपुनियानेबाजीमारीथी।उससमयचुनावमेंभीबलविद्रसैनीदूसरेनंबरपररहेथे।वहमात्रपांचवोटोंसेहारगएथे।250वोटकरतेहैंफैसला

बारचुनावमेंकुछमेंबरऐसेभीहैं,जिन्होंनेसदस्यतालीहुईहै,लेकिनप्रेक्टिसनहींकरते।ऐसेअधिवक्ताकेवलवोटडालनेकेसमयमेंआतेहैं।ऐसेकरीब250से300अधिवक्ताहै।बतायाजारहाहैकिइनअधिवक्ताओंकीवोटनिर्णायकहोतीहै।जिसप्रत्याशीकेसमर्थनमेंयेवोटजातेहैं,वहींविजेताबनताहै।चैंबरोंमेंरहनेवालेअधिवक्ताओंकेबीचगुटबाजीबनीरहतीहै।यहीसेजातीयसमीकरणभीबनतेहैं।जिसवजहसेयहांअधिवक्ताअलग-अलगधड़ोंमेंबंटेहोतेहैं।37वांप्रधानबनाबारएसोसिएशनका

1980मेंबारएसोसिएशनजगाधरीकापहलाचुनावहुआथा।उससमयसाहिबसिंहप्रधानचुनेगएथे।तबसेलेकरअबतक36प्रधानचुनेजाचुकेहैं।बलविद्रसैनीबारएसोसिएशनजगाधरीके37वेंप्रधानबनेहैं।हालांकिवहपूर्वमेंभीचुनावलड़चुकेहैं।उससमयवहमात्रछहवोटोंसेहारगएथे।इसबारउनकीजीतकाकारणअन्यबिरादरियोंकीएकजुटताबनीहै।एससी,बीसीऔरपंजाबीवोटभीउनकोपड़े।इनकीवोटोंनेउन्हेंजीततकपहुंचाया।

By Doyle