जम्मू,रोहितजंडियाल:समयकेसाथयुवाओंकीसोचमेंभीबदलावआरहाहै।युवासरकारीनौकरीकाइंतजारकरनेकेबजायआत्मनिर्भरबनदूसरोंकोरोजगारकीराहदिखारहेहैं।ऐसीहीएकयुवतीश्रेयाशर्माहैं।छोटी-सीउम्रमेंहीउनमेंकुछनयाकरनेकाजुनूनहै।पढ़ाईकेसाथहीउन्होंनेमोमबत्तियांबनानेकाकामशुरूकरदिया।उनकेइसकामकीसराहनाहोरहीहैऔरलोगमोमबत्तियांखरीदनेकेलिएआभीरहेहैं।

सरवालनिवासीभावनाशर्माऔरशामलालशर्माकीछोटीबेटीश्रेयाकाजुनूनकुछबेहतरवअलगकरनेकाहै।स्कूलकीपढ़ाईकेदौरानपरिवारकीदेखभालकरनेवालीमांकेसंघर्षकोदेखश्रेयानेतीनसालपहलेमहिलाकालेजपरेडमेंप्रवेशलियाऔरउसीसमयठानलियाथाकिघरवालोंपरबोझनहीं,बल्किउनकीताकतबननाहै।श्रेयानेकालेजमेंपढ़ाईकेसमयकेबादशामकोघरमेंबच्चोंकोट्यूशनपढ़ानाशुरूकरदिया।उन्हेंजोभीरुपयेमिलतेथे,उससेअपनाखर्चचलातीथींऔरउन्हेंभविष्यकेलिएजोड़तीभीथीं।दोसालपहलेकोरोनासंक्रमणकेमामलेआनेकेबादबच्चोंकोघरसेहीपढ़ायाजानेलगा।इससेश्रेयाकोऔरसमयमिला।

उन्होंनेस्नातकअंतिमवर्षमेंपरीक्षासेपहलेट्यूशनकेरुपयोंसेलघुउद्योगस्थापितकरनेकाफैसलाकिया।परिवारकेसदस्योंसेचर्चाकरनेकेबादमोमबत्तियांबनानेकाकामशुरूकरनेकाफैसलाकिया।इसमेंउन्होंनेकिसीकीभीसहायतानहींली।कामशुरूकरतेसमयअपनेआपकोदूसरोंसेअलगसाबितकरनेकेलिएपर्यावरणहितैषीमोमबत्तियांबनानाशुरूकी।आमजगहोंपरमोमबत्तीबनानेमेंपैराफिनवैक्सकाइस्तेमालहोताहै,लेकिनउन्होंनेसोयावैक्सकाइस्तेमालकिया।यहथोड़ामहंगाजरूरहै,लेकिनयहमोमबत्तीसामान्यमोमबत्तियोंकीअपेक्षादोगुनासमयतकचलतीहैं।

श्रेयाकाकहनाहैकिपढ़ाईकेसाथ-साथकामकरनाआसाननहींथा।थोड़ीमुश्किलेंतोजरूरआईं,लेकिनजबअच्छारेस्पांसमिलातोमुश्किलेंभूलगईं।उन्होंनेकहाकिअपनीमांकेसंघर्षकोदेखाहै।उसीसेउन्होंनेसीखली।अबवहखुदतोआत्मनिर्भरबननाचाहतीहैं,लेकिनदूसरोंकोभीइसकारास्तादिखानाचाहतीहैं।

दससे300रुपयेतकमिलतीहैमोमबत्ती: श्रेयाजोमोमबत्तियांबनातीहैं,उनकीकीमतदससेलेकरतीनसौरुपयेतकहै।इनमोमबत्तियोंकोसुगंधितभीबनायाहुआहै।उनकाकहनाहैकिलोगकीमतनहीं,गुणवत्तादेखतेहैं।वैसेभीजबकोईमोमबत्तीसामान्यमोमबत्तीकेमुकाबलेदोगुनाचलतीहोतोकीमतएकजैसीहीपड़़जातीहै।

प्राकृतिकहैंश्रेयाकेउत्पाद: इसीसालमहिलाकालेजपरेडसेआट्सविषयमेंग्रेजुएशनकरनेवालीश्रेयाकाकहनाहैकिउनकेसभीउत्पादप्राकृतिकहैं।इससेपर्यावरणकोभीनुकसाननहींपहुंचता।उनकासपनाअपनेइसलघुउद्योगकोबढ़ानाहै।कुछमहीनोंमेंहीलोगोंनेजोप्रतिक्रियादीहै,उससेकाफीउत्साहितहूं।जम्मूहाटमेंप्रदर्शनीकेदौरानभीलोगोंनेकाफीसराहाथा।

By Duffy