जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:जौलकांडेकेजंगलफिरधधकगए।पिटकुल132सबस्टेशनकेआसपासतकआगपहुंचनेसेवहांअफरातफरीमचगई।हालांकिआगकोनीचेकीतरफफैलनेसेस्थानीयलोगोंनेबचालिया।वनोंमेंलगरहीआगकोलेकरवनमहकमाभीफिलहालगश्तकेअलावाकुछनहींकरपारहाहै।मंगलवारकीसुबहसेजौलकांडेकेनीचलेहिस्सेकेजंगलजलनेलगे।मजियाखेतकेसमीपपिटकुल132सबस्टेशनकेआसपासआगपहुंचनेसेवहांअफरातफरीमचगई।स्थानीयलोगोंनेघंटोंमशक्कतकेबादआगकोनीचेगांवकीतरफआनेसेबचालिया,लेकिनआगलगनेसेपर्यावरणकोसबसेअधिकनुकसानहोनेलगाहै।धुआंवातावरणमेंफैलगयाहै,जिससेअस्थमारोगियों,बुजुर्गोंऔरछोटेबच्चोंकोसांसलेनेमेंभीदिक्कतहोनेलगीहै।वनविभागकोग्रीष्मऋतुमई-जूनकेलिएसरकारआगनियंत्रितकरनेकेलिएभारीभरकमबजटदेतीहै।इसबारमार्चसेलाकडाउनहोगया,जिसकेकारणजंगलोंमेंआगनहींलगी।वनविभागकोबजटभीप्राप्तनहींहुआहै।अक्टूबरमाहसेलगातारजंगलजलनेलगे।वनविभागनेगश्ततोबढ़ाईलेकिनफायरवाचरोंआदिकोबजटकेअभावमेंतैनातनहींकरसकीहै।लगातारजंगलोंमेंलगरहीआगकेबादवनमहकमेमेंभीहड़कंपमचाहुआहै।इधर,प्रभागीयवनाधिकारीबीएसशाहीनेबतायाकिजहांभीजंगलमेंआगलगरहीहैउसेबुझानेकाकामचलरहाहै।लोगोंकाभीइसमेंसहयोगलेरहेहैं।उन्होंनेकहाकिअराजकतत्वोंकेखिलाफसख्तकार्रवाईकीजाएगी।

By Elliott