जागरणसंवाददाता,महोबा:इससमयसबसेबड़ासंकटपीनेकेपानीकाहै।महोबाशहरकेअंदरआधेसेअधिकआबादीमेंसप्लाईकापानीपहुंचताहीनहींहै।जहांपहुंचभीरहाहैउसमेंअधिकांशघरोंमेंगंदाऔरखारापानीहोताहै।लोगयातोआरओयाफिरफिल्टरकाइस्तेमालकरकेहीउसेपीनेयोग्यकरपातेहैं।वहींशहरकेकुछमोहल्लोंमेंतोहैंडपंपभीनहींहैं।वहदूरक्षेत्रसेपानीलेकरआतेहैं।ऐसेइलाकोंमेंसुबहसेहीपानीकेलिएजंगशुरूहोजातीहै।

शहरकेशेखनपुरामेंचारदिनसेएकहैंडपंपकीचेनखराबहै।पानीकाएकमात्रसाधनभीसहीनहोनेसेलोगटैंकरकीराहदेखतेहैं।सुबहसेहीपानीकोलेकरलोगपरेशानदिखतेहैं।मोहल्लानिवासीवसमाजसेवीकेसीखरे,लालताप्रसादकाकहनाहैकिपानीकेलिएदिनमेंकईबारलोगोंकेबीचमारपीटकीनौबततकआजातीहै।घरोंमेंसप्लाईआनेकीउम्मीदनकेबराबरहै।टैंकरआताभीहैतोउससेबहुतअधिकलाभनहींहोपाता।उसकेआतेहीलोगोंकाहुजूमउमड़पड़ताहै।

डिब्बोंकेसाथलगाईलाइन

बीना,मालती,रेशमा,किरनअपनेडिब्बेलेकरबैठीहैं।सुबहसातबजेउसस्थानपरआगईथींजहांटैंकरआताहै।टैंकरआतेहीऐसेपानीकेलिएलूटमचीकिलोगएकदूसरेसेभिड़गए।

संवादसूत्र,बेलाताल(महोबा):ग्रामजैतपुरमुहल्लानयापुरामेंहैंडपंपोंनेपानीदेनाबंदकरदियाहै।यहांपानीकीटंकीहैहीनहीं।जैतपुरकेइसमोहल्लेमेंपेयजलआपूर्तिनहोनेसेकरीबपांचहजारघरोंकेलोगबेहालहैं।नयापुरामेंलगभग12हैंडपंपलगेहुएहैं।जिसमेंलगभगछहखराबहैं।करीबतीनहैंडपंपऐसेहैंजिनपरदबंगलोगकब्जाकिएहैं।दिनेशकुमार,अशोक¨सह,ज्ञान¨सह,सुरेन्द्र,विमर्श,श्याम,गयाप्रसादसहितकईलोगोंनेतहसीलकार्यालयकुलपहाड़मेंप्रार्थनापत्रसौंपकरपानीकाइंतजामकरानेकीमांगकीहै।

By Farrell