संवादसूत्र,डोमचांच(कोडरमा):जीएसपब्लिकस्कूलडोमचांचपरिसरमें बच्चोंद्वाराशुक्रवारकोपौधारोपणकियागया।वहींस्कूलकेनिदेशकनितेशकुमारनेबच्चोंकोयहकहाकिहमेंअपनेपर्यावरणकीस्वच्छतारखनेकेलिएहमेंपेड़पौधेलगानेचाहिए,जिससेहमारावातावरणशुद्धरहेगा।उन्होंनेबच्चोंअपनेघरोंवआसपासकेखालीजगहोंमेंपेड़पौधेलगानेवइसकीदेखभालकरनेकीअपीलकी।वहींविद्यालयकेउपनिदेशकनीरजकुमारनेकहाकिहमेंजंगलोंकीकटाईनिश्चितरूपसेरोकनीचाहिए।यदिहमइसपरध्याननादें,तोआगेआनेवालीपीढ़ीपरउसकाबुराप्रभावपड़ेगाऔरभविष्यमेंहमेंस्वच्छहवाभीमिलनामुश्किलहोगा।हमें प्रत्येकव्यक्तिकोअपनेजीवनकालमेंकमसेकम10से15पेड़पौधेलगानेचाहिए।जिसतरहएकपरिवारमेंसभीसदस्यएकअहमहिस्साहोताहै,उसीप्रकारपेड़भीअपनेजीवनकालमेंएकअहमहिस्साहै।मौकेपरबच्चोंएवंस्कूलकेशिक्षकोंनेपौधेलगानेवइसकीदेखभालकासंकल्पलिया।

By Dyer