नईदिल्लीआजअंतरराष्ट्रीयजलदिवसहै।आपकोयहजरूरपताहोगाकिदुनियाकेकईदेशयुद्ध,हिंसाऔरआपदासेजूझरहेहैंलेकिनइसबातकोकमहीलोगमहत्वदेतेहैंकिलगभगहरदेशजलसंकटकासामनाकररहेहैं।हमबचपनसेसुनतेआएहैंकिपानीहीजिंदगानीहैपरजरासोचिए,अगरकिसीदिनआपकोपानीनमिलेतोक्याहोगा?होसकताहैकिहमेंवहदिनदेखनानपड़ेपरजिसतेजीसेपानीकीबर्बादीहोरहीहै,हमनहींतोहमारीआनेवालीपीढ़ीकोजरूरपानीकेबड़ेसंकटसेगुजरनाहोगा।पानीकेलिएतीसरेविश्वयुद्धकीभीआशंकाजताईजारहीहै।क्याआपजानतेहैंकिदुनियामेंसाफ-सुथरापानीकितनेलोगोंकोमिलपाताहै?उन्हेंपानीकेलिएकितनाजद्दोजहदकरनापड़ताहैऔरइसकेबदलेमेंवेकितनाभुगतानकरतेहै?आइएकुछपॉइंट्ससेसमझतेहैंकिवास्तवमेंपानीकीहरबूंदकितनीअनमोलहै--अपनेदेशमेंशुद्धपेयजलकरीब7.5करोड़लोगोंकीपहुंचसेदूरहै।गंदेपानीसेहोनेवालीबीमारियोंकेचलतेहरसालभारतमेंकरीब1.4लाखबच्चेमारेजातेहैं।प्रतिव्यक्तिआयकेहिसाबसेभारतमेंलोग17फीसदीपैसापानीपरखर्चकरतेहैं।साफपानीमयस्सरनहीं-सुरक्षितपेयजलसेदुनियाकीकरीब2.1अरबआबादीमहरूमहै।दुनियाभरमेंहरसाल3.4लाखबच्चों(5सालसेकमउम्रके)कीमौतडायरियासेहोजातीहै।दुनियामेंहर10मेंसे4लोगपानीकीकमीसेप्रभावितहैं।घटरहीपानीकीउपलब्धता-भारतमेंप्रतिव्यक्तिकेहिसाबसेसालानापानीकीउपलब्धतामेंतेजीसेगिरावटहोरहीहै।2001मेंयह1,820क्यूबिकमीटरथा,जो2011में1,545क्यूबिकमीटररहगया।2025मेंइसकेघटकर1,341क्यूबिकमीटरऔर2050तक1,140क्यूबिकमीटरबचनेकीआशंकाजताईगईहै।-एकबारइस्तेमालहोनेकेबाद80फीसदीपानीकोबिनाशोधितकिएयाफिरसेउपयोगकिएबहादियाजाताहै।धरतीपर70फीसदीपानीमौजूदहैऔरइसकासबसेज्यादाइस्तेमालखेतीऔरइससेजुड़ेकार्योंमेंकियाजाताहै।गरीबदेशोंमेंबढ़ींबीमारियां-प्रदूषितपानीपीनेऔरसाफ-सफाईकेअभावमेंदुनियाकेगरीबदेशोंमेंबीमारीऔरबदहालीतेजीसेबढ़रहीहै।दुनियामें2.3अरबलोगोंकेपासशौचालयजैसेस्वच्छताकेप्राथमिकसंसाधननहींहैं।-एकछोटासादेशहैपापुआन्यूगिनी।यहांहरदिन50लीटरपानीकेलिएप्रतिव्यक्तिआयका54फीसदीहिस्साखर्चकरनापड़ताहै।विश्वस्वास्थ्यसंगठनकेअनुसारदेशकी60फीसदीआबादीकीपहुंचमेंपीनेकासाफपानीनहींहै।-असुरक्षितजलस्रोतोंसेपानीपीनेवालेआधेसेज्यादालोगअफ्रीकीदेशोंकेहैं।गरीबोंकोपानीकेलिएज्यादासंघर्षकरनापड़ताहै।अफ्रीकाकेकईदेशोंमेंज्यादातरलोगोंकोपानीजुटानेकेलिए30मिनटखर्चकरनापड़ताहै।कुछदेशोंकेलोगोंकोतो1घंटेसेज्यादाभीलगजाताहै।दुखदयहभीहैकिपानीइकट्ठाकरनेकीपूरीजिम्मेदारीलड़कियोंऔरमहिलाओंकीहोतीहै।पानीकाऐसाहैहाल...-मंगोलियाअकेलाऐसादेशहैजहांपानीजुटानेकीबराबरजिम्मेदारीलड़कोंऔरपुरुषोंकीहोतीहै।वहीं,दक्षिणअफ्रीकाकेकुछप्रांतोंमें60%सेज्यादापरिवारोंको2-3दिनमेंएकबारहीपानीनसीबहोताहै।पढ़ें,विश्वजलदिवस:इनआसानतरीकोंसेबचाएंपानी-दिल्लीमेंपानीकासंकटकिसीसेछिपानहींहै।यमुनाप्रदूषितहोचुकीहै,सप्लाइकापानीकमहीघरोंतकपहुंचताहै,ऐसेमेंटैंकरसेपानीजुटानेकेलिएलोगोंकोकाफीजद्दोजहदकरनीपड़तीहै।मध्यप्रदेश,राजस्थानकेकईइलाकोंमेंभीपानीकागंभीरसंकटहै।-पानीकीकमीकेकारणअपनेदेशमेंखरीफकीफसलोंकीबुआईमेंकमीआईहै।-ऐसेमेंपानीकेदोबाराइस्तेमालसे,रोजमर्राकेकामोंमेंपानीकाउपयोगकमकरकेहमजलसंरक्षणमेंअपनायोगदानकरसकतेहैं।इनपौधोंकेबारेमेंजानें-यहांयहजाननाभीजरूरीहैकिपेड़-पौधोंसेजलचक्रबेहतररहताहैऔरआपदासेबचावहोताहै।एकतरफएकयूकेलिप्टसकावृक्षप्रतिदिन24गैलनपानीअवशोषितकरताहैतोवहींबांजऔरबुरांसअपनीजड़ोंमेंपानीकोसंरक्षणकरनेवालेपौधेमानेजातेहैं,जोहिमालयीक्षेत्रमेंपाएजातेहैं।इसकेअलावाभीकईपौधेहैंजोपानीकासंरक्षणकरतेहैं।

By Dunn