जासं,जमशेदपुर:झारखंडकेजमशेदपुरशहरकेयुवालेखकअंशुमनभगतनेबॉलीवुडकीटीवीइंडस्ट्रीपरआधारितउपन्यास‘एकसफरमें’लिखीहै,जिसकाविमोचनशनिवारकोमुंबईमेंप्रसिद्धलेखकवभाजपानेतातुहिनसिन्हानेकिया।तुहिनसिन्हाजीनेकिताबकेलोकार्पणकरतेहुएलेखकअंशुमनभगतकीसराहनाकीऔरउनकेउज्जवलभविष्यकेलिएशुभकामनाएंभीदी।साथहीउन्होंनेकहाकिजमशेदपुरहमेशासेस्टीलसिटी,इस्पातनगरीकेरूपमेंजानागयाहैलेकिनयहबड़ेगर्वकीबातहैकिआजजमशेदपुरसेबड़ीतादादमेंअच्छेलेखक,अच्छेकलाकार,अच्छेखिलाड़ीऔरभिन्न-भिन्नरचनात्मकक्षेत्रसेजुड़ेलोगजमशेदपुरमेंप्रसिद्धहैऔरजमशेदपुरकानामपूरेविश्वभरमेंरोशनकररहेहैं।

भगतनेबतायाकियहपुस्तकऐसेविषयोंपरलिखीगईहै,जोनईपीढ़ीकोसचेतकरेगी।अक्सरबॉलीवुडकीटीवीइंडस्ट्रीमेंअपनेसपनोंकेसाथआएआनेवालेकलाकारअपनीराहसेभटकजातेहैं।भटकावमेंआकरगलतफैसलालेलेतेहैं।इनसभीबातोंकाखुलकरउल्लेखकियागयाहै।इसकेसाथहीड्रग्सजैसेमुद्दोंपरविस्तारसेलिखाहुआहैकिकैसेकलाकारइसकेशिकारहोकरडिप्रेशनमेंचलेजातेहैं।यहकिताबमायानगरीकीवास्तविकताकोदर्शातीहै।इसमेंनवाजुद्दीनसिद्दीकीवअमिताभबच्चनसमेतकईऐसेकलाकारोंकावर्णनहै,जोअपनीशारीरिकसुंदरताकीबजायअभिनयकेदमपरशिखरपरपहुंचे।

बालाजीबतातेहैंकिआजलगभगसभीइसबातसेवाकिफहैंकिबॉलीवुडमेंकिसप्रकारएकआमकलाकारअपनेसपनेकोसचकरनेकेलिएअपनेमेहनतऔरस्ट्रगलकेबलबूतेऊपरआतेहैंलेकिनयहबातभीजाननाजरूरीहैकिबॉलीवुडइंडस्ट्रीमेंपरदेकेपीछेकासचक्याहैजोलिखेअंशुमनभगतकीइसकिताबमेंउन्होंनेबखूबीसेलिखाहै।बतादेंकियहपुस्तकऐसेविषयपरलिखीगईहैजोइसपुस्तककोअपनेआपमेंसबसेअनोखाबनाताहै।"बॉलीवुडटीवीइंडस्ट्री"मेंकिसप्रकारअपनेसपनोंकेसाथआएनएकलाकारअपनीराहसेभटकजातेहैंऔरभटकावमेंआकरगलतफैसलालेलेतेहैं।इनसभीबातोंकाखुलकरउल्लेखकियागयाहै।साथहीड्रग्सजैसेमुद्दोंपरविस्तारसेलिखाहुआहैकिकैसेकलाकारड्रग्सजैसेबुरीआदतोंसेग्रस्तहोकरडिप्रेशनकाशिकारहोजातेहैं।

अंशुमनभगतकीयहकिताबमायानगरीकीवास्तविकताकोदर्शातीहै

लेखकअंशुमनभगतइसकिताबकेजरिएकलाकारोंतकयहबातपहुंचानाचाहतेहैंकिकेवलरंगरूपसेनहींकाममिलता।किसीभीकलाकारकोखुदकेरंग-रूपऔरसुंदरतासेज्यादाखुदकेअभिनयऔरकाबिलियतपरभरोसाहोनाचाहिए।अभिनयसेहीकिसीकलाकारकीपहचानकीजासकतीहै।इसकोसमझनेकेलिएलेखकनेकईउदाहरणकिताबमेंलिखेहैं।जैसेनवाजुद्दीनसिद्दीकी,अमिताभबच्चनजैसेमहानकलाकारअपनेरंगरूपसेनहीं,नाहीअपनीशारीरिकसुंदरतासेप्रसिद्धहुएबल्किवेअपनेअभिनयकेदमपरइसमुकामतकपहुंचे।किंतुइसइंडस्ट्रीमेंकईकलाकारऐसाभीसोचतेहैंकियदिवेमहंगे-महंगेइंस्टिट्यूटयाएक्टिंगएकेडमीसेक्लासेसकरेंगेतोहीउन्हेंकाममिलेगायाअच्छापहनावा,अच्छाखान-पानयाअच्छादिखेंगेतभीउनकोकाममिलेगा।ऐसासोचनेकेकारणहीकईकलाकारअपनेसपनोंसेदूरहोतेचलेजातेहैं।क्योंकिइनसबकारणोंकीवजहसेवहखुदकोउसयोग्यनहींसमझपाते।इन्हींमुद्दोंपरप्रकाशडालतेहुएएकबड़ेआर्टिस्टकम्यूनिकिटीतकसहीमायनेमेंसंदेशपहुंचेजिससेउन्हेंअपनीराहचलनेमेंआसानीहोऔरकिसीतर्कपरनहींबल्किखुदलेखकनेअपने3सालकेअनुभवकोसबकेबीचसाझाकियाहै।

By Duncan