रोहितजंडियाल,जम्मू

जनवरीमेंहीप्रदेशमेंकोरोनासंक्रमणकेमामलेदसगुनासेअधिकबढ़गएहैं।बड़ीचिंतायहहैकिजम्मूजिलेमेंइसमहीनेके15दिनोंमेंसक्रियमरीजोंकीसंख्या15गुनाबढ़ीहै।संक्रमणदरभीनौसेदसप्रतिशतहोगई।हालांकि,प्रदेशकेअस्पतालोंमेंबेडऔरसुविधाओंकीफिलहालकोईकमीनहींहै।93प्रतिशतबेडखालीहैं।

नेशनलहेल्थमिशनकेअनुसारवर्तमानमेंप्रदेशमें15,883मामलेसक्रियहैं।इनमेंसेमात्र337मरीजअस्पतालोंमेंहैं।प्रदेशमेंप्रथमऔरद्वितीयस्तरकेअस्पतालोंमेंकोविडमरीजोंकेलिए4794बेडआरक्षितहैं।यानीसातप्रतिशतमरीजहीअस्पतालोंमेंभर्तीहैं।जम्मूमेंसिर्फजीएमसीजम्मू,डीआरडीओअस्पतालभगवतीनगरऔरगांधीनगरकेजच्चा-बच्चाअस्पतालमेंहीमरीजभर्तीहैं।जम्मूकेअस्पतालोंमेंमात्र111हीमरीजभर्तीहैं।जीएमसीअस्पतालमें34,डीआरडीओअस्पतालमेंसबसेअधिक55,गांधीनगरकेजच्चा-बच्चाअस्पतालमें22मरीजभर्तीहैं।गांधीनगरअस्पतालमेंछहबच्चेऔर12गर्भवतीमहिलाएंहैं।अस्पतालकेमेडिकलसुपरिंटेंडेंटडा.अरुणशर्माकाकहनाहैकिसभीमरीजोंकीहालतस्थिरहैं।गर्भवतीमहिलाओंऔरबच्चोंकोइसअस्पतालमेंभर्तीकियाजारहाहै।इसमहीनेअभीतक18संक्रमितगर्भवतीमहिलाओंकेप्रसवभीहोचुकेहैं।कश्मीरमेंभीइसीतरहकीस्थितिहै।श्रीनगरजिलेमेंसक्रियमरीजोंकीसंख्याजम्मूकेबादसबसेअधिकहै।श्रीनगरमेंकुल3332सक्रियमामलेहैं,लेकिन130मरीजहीअस्पतालोंमेंहैंयानीकरीबचारप्रतिशत।अन्यमरीजघरोंमेंहीइलाजकरारहेहैं।दूसरीलहरमेंनहींमिलरहेथेबेड:गतवर्षमईमेंजबकोरोनाकीदूसरीलहरआईथीतबहरदिनतीनसेसाढ़ेतीनहजारमरीजमिलरहेथे।उससमयअस्पतालोंमेंबेडतकनहींमिलपारहेथे।जम्मूमेंइससमयतीनअस्पतालोंमेंहीकोविडकेमरीजहैं।दूसरीलहरमेंइसीस्थितिमेंजीएमसीजम्मूकेअलावासीडीअस्पताल,सुपरस्पेशलिटीअस्पताल,गांधीनगरकापुरानाअस्पताल,जच्चा-बच्चाअस्पताल,राजीवगांधीअस्पतालगंग्यालमेंभीमरीजभर्तीथे।विशेषज्ञोंकाकहनाहैकिइसबारजोभीमामलेआरहेहैं,उनमेंलक्षणकमहैं।

दूसरीलहरमेंजिसतरहसेमरीजअस्पतालोंमेंआएथे,इसबारऐसानहींहै।इसबारलक्षणकमहैं।बहुतकममरीजोंकीछातीसंक्रमणसेप्रभावितहै।अस्पतालोंमेंजोभर्तीहैं,वेभीअधिकगंभीरनहींहैं।दूसरीलहरमें100सेएकहजारमामलेतकपहुंचनेमें25दिनोंकासमयलगाथा।इसबारदोसप्ताहसेभीकमसमयलगा।इसेहल्केसेनहींलियाजासकता।

-डा.मुहम्मदसलीमखान,एचओडी,कम्यूनिटीमेडिसिनविभागजीएमसीश्रीनगरतीसरीलहरकाहममुकाबलाकररहेहैं।हमनेपहलीऔरदूसरीलहरभीदेखीहै।बार-बारवायरसम्यूटेटकररहाहै।इसबारकासंक्रमणतेजीकेसाथफैलरहाहै।इसमेंइनफ्लूंजाकेलक्षणहैं।खांसीऔरजुकामअधिकहै।लोगइसेआमखांसीऔरजुकामनसमझें।यहकोविडहोसकताहै।इसमेंहमेंहल्केसेलेनेकीजरूरतनहींहै।यहलहरबच्चोंकोभीप्रभावितकररहीहै।यहीनहीं,पहलेसेबीमारलोगइससेजानभीगंवारहेहैं।सभीकोमास्कपहननेकेअलावाकोविडउपयुक्तव्यवहारकरनेकीजरूरतहै।

-डा.शशिसूदन,प्रिसिपल,जीएमसी

तीसरीलहरकेलिएहमपरीतरहसेतैयारहै।हमारेपासडीआरडीओका500बिस्तरोंकीक्षमतावालाअस्पतालहै।यहजरूरीहैकिलोगखुदसतर्करहें।मास्कपहनें,भीड़इकट्ठीनकरें।इसवायरसकोभीहल्केसेनलें।

-डा.यशपालशर्मा,नएमेडिकलकालेजोंकेनिदेशक

By Edwards