मथुरा:राजीवएकेडमीमेंस्किल्सविकसितकरनेऔरजॉबप्लेसमेंटमेंपहलीबारहीसफलताप्राप्तकरनेकेभागीरथप्रयासोंसेछात्र-छात्राओंकोलाभहोरहाहै।सैद्धांतिकऔरव्यावहारिकज्ञानमेंतादात्म्यस्थापितकरनेकेलिएकारपोरेटजगतकेविद्धानलगातारउन्हेंअपडेटकररहेहैं।

इसीक्रममेंअनमोलइंडस्ट्रीजलिमिटेडकेअधिकारीमयंकप्रकाशनेबीबीएद्वितीयवतृतीयवर्षकेछात्र-छात्राओंकेसाथचर्चाकी।उन्होंनेकहाकिप्रबंधनकेविद्वानोंनेकोरपोरेटजगतमेंप्रवेशकरनेवालेनवागंतुकोंकेलिएकुछसिद्धांततयकियेहैं,जिनकेअध्ययनकेबादपरेशानियांकमहोजातीहैं।

उन्होंनेकहाकिहमारेशास्त्रोंमेंविद्यार्थीकेविषयमेंपांचलक्षणबताएगएहैं,जिनकेमौजूदहोनेसेविद्यार्थीलगातारसफलताप्राप्तकरतेहुएअपनेस्वर्णिमभविष्यकोप्राप्तकरताहै।

आरकेएजुकेशनहबकेचेयरमेनडॉ.रामकिशोरअग्रवालनेसफलताकेसातसोपानोंकोछात्रोंकेभविष्यकामीलकापत्थरबतातेहुएकहाकिछात्रजीवनमें''काकचेष्ठाबकोध्यानम''वालाश्लोकछात्रोंकेलिएसर्वोत्तमउपदेशहै।यहहजारोंवर्षोंसेप्रासंगिकहैऔरआगेभीरहेगा।

एमडीमनोजअग्रवालनेकहाकिभारतीयविद्यार्थीकेअध्ययनकीधुरीसफलताकेसोपानोंकेअनुकरणपरटिकीहुईहै।सफलताकाकोईशार्टकटखोजनामूर्खताहै।सातसोपानोंमेंसफलतापानेकीप्रक्रियाछिपीहै।छात्र-छात्राएंइसेअपनेभीतरसेबाहरलाकरस्वर्णिमसपनेसाकारकरसकतेहैं।निदेशकडॉ.अमरकुमारसक्सेनानेधन्यवादकिया।

By Douglas