जागरणसंवाददाता,नूंह:

खंडकेगांवकालियाकास्थितप्राइमरीस्कूलमेंग्रामीणोंनेदोबारासेकक्षालगानेकीमांगकीहै।बीतेदिनोंस्कूलमेंबच्चोंकीसंख्यापर्याप्तनहींहोनेकेचलतेशिक्षाविभागनेस्कूलकोबंदकरादियाथा।इससेअबग्रामीणकाफीपरेशानहोचुकेहैं।अबउनकोअपनेबच्चोंकोसाथकेलगतेगांवोंमेंभेजनापड़रहाहै।जिससेअभिभावकोंकाकाफीसमयव्यर्थजारहाहै।लेकिनइसबारग्रामीणोंनेशिक्षाविभागकेअधिकारियोंकोस्कूलमेंबच्चोंकीसंख्यापूरीकरनेकाआश्वासनदियाहै।नयाशिक्षासत्रभीप्रारंभकियाजाचुकाहै।लेकिनअभीतकस्कूलमेंकक्षाएंनहींलगरहीहै।जिससेग्रामीणोंनेविभागीयअधिकारियोंसेदोबारासेप्राइमरीस्कूलकोचलानेकीमांगकीहै।गो¨वदरामनंबरदार,सरपंचबीरपालपंवार,प्रभुदयाल,नरेशपंवार,दीपचंदपूर्वसरपंच,महेंद्रमास्टर,शिवदत्तमास्टर,ओमप्रकाशनंबरदार,योगेंद्रनंबरदार,हरीराम,तेजपालवगजराजनेबतायाकिगांवमेंबीतेदिनोंप्राइमरीस्कूलमेंबच्चोंकीसंख्याबहुतकमथी।जिससेस्कूलकोबंदकरदियाथा।जिससेगांवकेगरीबीरेखासेनीचेजीवनयापनकरनेवालेलोगोंकोसबसेअधिकपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।ऐसेमेंउन्होंनेशिक्षाविभागकेअधिकारियोंसेमांगकीइससमस्याकाजल्दसमाधानकरायाजाए।जिसेगांवकेसभीबच्चोंकोशिक्षाकालाभमिलसके।

ग्रामीणोंकामांगपत्रमिलगयाहै।इसबारेमेंविभागकेउच्चअधिकारियोंकोअवगतकरादियाहै।पूर्वमेंस्कूलमेंबच्चोंकीसंख्यानहींथी।जिससेविभागकोस्कूलकोबंदकरनापड़ाथा।लेकिनइसबारग्रामीणोंनेस्कूलमेंबच्चोंकीसंख्यापूरीकरानेकाआश्वासनदियाहै।जिससेउम्मीदहै,किजल्दस्कूलकोप्रारंभकरायाजाएगा।

अनूप¨सहजाखड़,जिलामौलिकशिक्षाअधिकारी।

By Farrell