राज्यसरकारस्वास्थ्यसेवाओंकोसुदृढ़करनेकालाखदावाकरले,लेकिनजमीनीहकीकतइसकेठीकविपरीतहै।साधन-संसाधनकेअभावमेंबीमारपीएचसीकोकिसीतारणहारकाइंतजारहै।जर्जरभवन,डॉक्टरोंवस्वास्थ्यकर्मियोंकीकमी,बेडकाअभावस्वास्थ्यमहकमेकोआइनादिखानेकेलिएकाफीहै।लेकिनविभागीयपदाधिकारीसेलेकरप्रशासनऔरसरकारनेभीइसकासुधलेनामुनासिबनहींसमझा।भवनकीजर्जरताकाआलमयहहैकिछतकाप्लास्टरअक्सरझड़करगिरताहै।जिससेमरीजोंवस्वास्थ्यकर्मियोंकीजानपरआफतबनीरहतीहै।बारिशकेदिनोंमेंछतसेपानीटपकताहै।लेकिनइसकीमरम्मतऔररंगाई-पुताईकेलिएकदमनहींउठाएगए।

डॉक्टरआवासमेंचलताहैप्रसवकक्ष

-पीएचसीभवनकेजर्जरहोनेऔरकमरेकीकमीकेचलतेडॉक्टरकेआवासीयकक्षमेंप्रसववार्डकासंचालनकियाजाताहै।वहांभीस्थाननहींहोनेकेचलतेपर्याप्तसंख्यामेंबेडउपलब्धनहींहै।पीएचसीमेंओपीडीकासंचालनकियाजाताहै।ऐसीस्थितिमेंमरीजोंकोअपनाइलाजकरानेमेंकाफीपरेशानीहोरहीहै।सबसेज्यादादिक्कतगरीबमरीजोंकोहोरहीहै।गरीबतबकेकेमरीजरुपयेकेअभावनिजीक्लीनिकमेंजानहींपातेऔरसरकारीअस्पतालमेंसमुचितलाभनहींमिलपाताहै।आर्थिकरुपसेसंपन्नमरीजनिजीक्लीनिकमेंजानाज्यादाबेहतरसमझतेहैं।

बेडकीकमीसेजूझरहाअस्पताल

-कौआकोलप्रखंडक्षेत्रकीआबादीतकरीबनडेढ़लाखहै।इतनीबड़ीआबादीकेविरुद्धप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंमात्रपांचबेडहीउपलब्धहैं।इसकेपीछेजगहकीकमीसबसेबड़ीवजहहै।वहींबेडपरप्रतिदिनचादरभीनहींबिछाएजातेहैं।

आयुषचिकित्सककरतेहैंओपीडीकासंचालन

-पीएचसीमेंफिलहालपांचचिकित्सकपदस्थापितहैं।जिसमेंआयुषचिकित्सकडॉ.जगदीशरजकहीओपीडीकासंचालनकरतेहैं।अन्यचिकित्सकसप्ताहमेंकिसी-किसीदिनपहुंचकरखानापूर्तिकरतेहैं।स्वास्थ्यकर्मियोंकेभीकईपदरिक्तपड़ेहैं।ड्रेसरकेपदपरएकभीकर्मीपदस्थापितनहींहैं।डॉक्टरोंवकर्मियोंकीकमीकेबीचअगरकिसीदिनमरीजोंकीसंख्यामेंवृद्धिहोजातीहैतोअफरातफरीमचजातीहै।किसीतरहतत्कालरेफरकरमरीजोंकोसदरअस्पतालभेजदियाजाताहै।मलेरियाप्रभावितक्षेत्रहोनेकेबावजूदयहांइसकेलिएकोईविशेषव्यवस्थाभीनहींहै।

गंदगीकारहताहैअंबार

-पीएचसीपरिसरमेंगंदगीकाअंबारहै।झाड़ियांउगीहुईहैं।नियमितसफाईनहींहोनेसेयहहालबनाहुआहै।वहींशौचालयकीस्थितितोबिल्कुलखराबहै।गंदगीकेचलतेमरीजयातीमारदारशौचालयजानेकेबजाएखुलेमेंशौचकरनेकोविवशहोरहेहैं।लेकिनइसव्यवस्थाकोदुरुस्तकरनेकेलिएठोसकदमनहींउठाएजारहेहैं।अस्पतालकोपूरीतरहअपनेहालपरछोड़दियागयाहै।

अस्पतालमेंमहिलाडॉक्टरनहीं

-महिलाचिकित्सकोंकातोयहांहमेशासेअभावरहाहै।प्रसवआदिकार्यभीएएनएमकेसहारेकराएजातेहैं।लिहाजाबिचौलियोंकासाम्राज्यस्थापितहै।जबकोईगर्भवतीमहिलाकोप्रसवकेलिएअस्पताललायाजाताहैतोपीएचसीकेकर्मीकीमिलीभगतसेबाहरसेदवाएवंअन्यजरुरीसामाग्रीक्रयकेलिएपरिजनोंकोबरगलायाजाताहै।इतनाहीनहींउन्हेंनिजीक्लिीनिकोंमेंभेजदियाजाताहै।

-पीएचसीमेंभवननहींरहनेकेकारणवार्डनहींबनरहाहै।जिसकेकारणमरीजोंकोकाफीपरेशानीहोरहीहै।अस्पतालमेंसाफसफाईकाभीघोरअभावहै।

कपिलकुमार,कौआकोल।फोटो-09

-शौचालयकासाफसफाईनियमितरुपसेनहींहोरहीहै।मरीजखुलेमेंशौचकरनेकोविवशहैं।मरीजोंकेहितमेंपीएचसीकीव्यवस्थासुधारनेकीजरुरतहै।

महेशकुमार,कौआकोल।फोटो-10

-अस्तपालमेंचिकित्सकवस्वास्थ्यकर्मियोंकेपदरिक्तहैं।पदस्थापितचिकित्सकभीमनमानेढंगसेड्यूटीकरतेहैं।मरीजोंकोइलाजमेंपरेशानीहोरहीहै।

मखदूमइस्लाम,पहाड़पुर।फोटो-11

-प्रसवकरानेआनेवालीगर्भवतीमहिलाएंएवंउनकेपरिजनअस्पतालमेंबिचैलियाकेशिकारहोजातेहैं।स्वास्थ्यकर्मियोंकीमिलीभगतसेसाराखेलचलरहाहै।

जयप्रकाशयादव,जोगाचक।फोटो-12

-भवनएवंकर्मियोंकीकमीकेकारणमरीजोंकोस्वास्थ्यसेवाकासमुचितलाभदिलवानेमेंकाफीपरेशानीहोतीहै।बावजूदउपलब्धसाधन-संसाधनकेबलबूतेहरसंभवप्रयासकिएजातेहैं।मरीजोंकासहीतरीकेसेइलाजकियाजाताहै।जगहकीकमी,जर्जरभवनसमेतअन्यजरुरीबातोंकीओरवरीयअधिकारियोंकोअवगतकरायागयाहै।

डॉ.रामप्रियसहगल,पीएचसीप्रभारी,कौआकोल।फोटो-13