नईदिल्ली:दिल्लीकेअधिकारियोंकेट्रांसफर-पोस्टिंगकामसलासुप्रीमकोर्टने5जजोंकीसंविधानपीठकोसौंपदियाहै.यानीदिल्लीमेंप्रशासनिकसेवाओंकोकौननियंत्रितकरेगी,इसकाफैसलासुप्रीमकोर्टकी5जजोंकीसंविधानपीठतयकरेगी.अबइसमसलेपरसुप्रीमकोर्टमेंबुधवारयानी11मईकोसुनवाईहै.सुप्रीमकोर्टनेकहाकिमामलेकाजल्दनिपटाराकियाजाएगा,साथहीयहभीकहाकिकोईभीपक्षसुनवाईटालनेकेआवेदननदे.बतादेंकिदिल्लीसरकारअधिकारियोंपरपूर्णनियंत्रणकीमांगकररहीहै.

दरअसल,पिछलीसुनवाईमेंसुप्रीमकोर्टनेअपनाआदेशसुरक्षितरखलियाथा.सिविलसर्विसेजपरनियंत्रणकोलेकरदिल्लीसरकारनेकेंद्रकेखिलाफसुप्रीमकोर्टमेंयाचिकादायरकरअधिकारियोंकेट्रांसफर-पोस्टिंगकेअधिकारमांगकीहै.पिछलीसुनवाईमेंहीसुप्रीमकोर्टनेसंकेतदियाथाकिवहमामलेको5जजोंकेसंविधानिकपीठकेपासभेजसकताहै.

दिल्लीसरकारकीतरफसेवकीलअभिषेकमनुसिंधवीनेकहाथाकिइसमामलेमेंसंविधानपीठकाफैसलापहलेसेहीहै.केंद्रसरकार6बारकेसकीसुनवाईटालनेकाआग्रहकरचुकीहै.अबकेसकोबड़ीबेंचकेपासभेजनेकीमांगकररहीहै.संविधानिकपीठकेफैसलेमेंगलतीनिकलीजासकतीहै,इसकामतलबयहनहींहैकिमामलेकोफिरबड़ीबेंचकेपासभेजाजाए.यहएकदुर्लभमामलाहोगा.इससेपहलेदिल्लीसरकारबनामसेंट्रलगवर्नमेंटकीलड़ाईपरसुनवाईकेदौरानसुप्रीमकोर्टमेंकेंद्रसरकारनेकहाकिअधिकारियोंकेतबादलोंऔरपोस्टिंगपरउसकानियंत्रणहोनाचाहिए,क्योंकिदिल्लीदेशकीराजधानीहैऔरपूरीदुनियाभारतकोदिल्लीकीनजरसेहीदेखतीहै.वहीं,दिल्लीसरकारनेकेंद्रकेरुखपरआपत्तिजताई.

सॉलिसिटरजनरलतुषारमेहतानेसुप्रीमकोर्टमेंकी239AAकीव्याख्या

पिछलीसुनवाईमेंसुप्रीमकोर्टमेंकेंद्रकीतरफसेसॉलिसिटरजनरलतुषारमेहताने239AAकीव्याख्याकरतेहुएबालकृष्णनसमितिकीरिपोर्टकाभीजिक्रकियाथाऔरकहाथाकिचूंकिदिल्लीराष्ट्रीयराजधानीहै,इसलिएयहआवश्यकहैकिकेंद्रकेपासलोकसेवकोंकीनियुक्तियोंऔरतबादलोंकाअधिकारहो.दिल्ली,भारतकाचेहराहै.दिल्लीकेकानूनोंकेबारेमेंआवश्यकविशेषताइसबातसेनिर्देशितहैकिइसदेशकीमहानराजधानीकोकैसेप्रशासितकियाजाएगा.यहकिसीविशेषराजनीतिकदलकेबारेमेंनहींहै.सॉलिसिटरजनरलनेशीर्षअदालतकेसमक्षकेंद्रसरकारकापक्षरखतेहुएतर्कदियाकिदिल्लीक्लाससीराज्यहै.दुनियाकेलिएदिल्लीकोदेखनायानीभारतकोदेखनाहै.बालकृष्णनसमितिकीरिपोर्टकीइससिलसिलेमेंबड़ीअहमियतहै.चूंकियहराष्ट्रीयराजधानीहै,इसलिएयहआवश्यकहैकिकेंद्रकेपासअपनेप्रशासनपरविशेषअधिकारहोंऔरमहत्वपूर्णमुद्दोंपरनियंत्रणहो.केंद्रनेसुप्रीमकोर्टसेकहाकिइसमामलेको5न्यायाधीशोंकीसंवैधानिकपीठकोभेजाजानाचाहिए,जिसकादिल्लीसरकारकीतरफसेकड़ाविरोधकियागया.

वरिष्ठवकीलअभिषेकमनुसिंघवीनेसुप्रीमकोर्टमेंरखादिल्लीसरकारकापक्ष

वरिष्ठअधिवक्ताअभिषेकमनुसिंघवीनेसुप्रीमकोर्टमेंदिल्लीसरकारकापक्षरखा.उन्होंनेतर्कदिया,‘केंद्रकेसुझावकेमुताबिकमामलेकोबड़ीपीठकोभेजनेकीजरूरतनहींहै.पिछलीदो-तीनसुनवाईकेदौरानकेंद्रसरकारइसमामलेकोसंविधानपीठकोभेजनेकेलिएबहसकररहीहै.बालकृष्णनसमितिकीरिपोर्टपरचर्चाकरनेकीकोईआवश्यकतानहींहैक्योंकिइसेखारिजकरदियागयाथा.’गौरतलबहैकिदिल्लीकीआमआदमीपार्टी(आप)सरकारकेंद्रपरराजधानीकेप्रशासनकोनियंत्रितकरनेऔरलोकतांत्रिकतरीकेसेचुनीहुईसरकारकेफैसलोंमेंउपराज्यपालकेजरिएव्यवधानउत्पन्नकरनेकाआरोपलगातीरहीहै.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:Delhinews,SupremeCourt

By Duffy