संवादसहयोगी,रुद्रप्रयाग:ChardhamYatra2022:केदारनाथपैदलमार्गपरसंचालितघोड़ा-खच्चरसंचालकोंकीलापरवाही,डिहाइड्रेशनऔरउचितआहारनमिलनेकेकारणमौतकेमुंहमेंजारहेहैं।

सरकारीरिकार्डमेंपैदलमार्गपरअबतक103घोड़ा-खच्चरकीमौतहोचुकीहै।हालांकि,मामलाउछलनेकेबादअबप्रशासनघोड़ा-खच्चरकोलेकरकाफीसजगहोगयाहै।घोड़ा-खच्चरकेस्वास्थ्यकीनियमितजांचकेसाथहीपशुक्रूरताअधिनियममेंभीमुकदमेदर्जकिएजारहेहैं।

केदारनाथयात्रामेंविभिन्नराज्योंसेआएलगभगदसहजारघोड़ा-खच्चरकासंचालनहोरहाहै।उनकेलिएगौरीकुंडवसोनप्रयागमेंपड़ावबनाएगएहैं।लेकिन,अधिककार्यलिएजाने,क्षमतासेअधिकवजनउठाने,पीनेकेलिएगर्मपानीवहरीघासकीअनुपलब्धताजैसेकारणोंसेउनकास्वास्थ्यबिगड़जारहाहैऔरफिरपेटफूलनेवफेफड़ोंमेंसंक्रमणसेउनकीमौतहोजारहीहै।

रोजानालगभग30लीटरपानीदियाजानाजरूरी

मुख्यपशुचिकित्साधिकारी(रुद्रप्रयाग)डा.आशीषरावतनेबतायाकिघोड़ा-खच्चरकोरोजानालगभग30लीटरपानीदियाजानाजरूरीहै।लेकिन,उच्चहिमालयीक्षेत्रमेंबर्फीलेपानीकोवहनहींपीते।ऐसेमेंसंचालकोंकोउन्हेंगर्मपानीदेनेकेलिएकहाजाताहै।इसकेविपरीतकेदारनाथपैदलमार्गपरघोड़ा-खच्चरकोठंडापानीहीदियाजारहाहै।साथहीउन्हेंहरीघासभीउपलब्धनहींहोरही।इससेघोड़ा-खच्चरकेशरीरमेंपानीकीकमीहोजारहीहै,जिसकासीधाअसरआंतोंपरपड़रहाहै।

डा.रावतनेबतायाकिआंतोंमेंगांठबनने,पेटफूलनेऔरसांसलेनेमेंदिक्कतहोनेसेआखिरकारघोड़ा-खच्चरकीमौतहोजारहीहै।इसकेअलावाअधिकवजनलादनेसेभीउनकेशरीरपरविपरीतअसरपड़ताहै।वहीं,पिछलेपांचदिनोंसेप्रशासनकाफीसतर्कनजरआरहाहै।लगातारचेकिंगअभियानकेसाथपशुक्रूरताअधिनियममेंमुकदमेभीदर्जहोरहेहैं।अबतकछहघोड़ा-खच्चरस्वामियोंपरमामलादर्जकियाजाचुकाहै।जबकि,224घोड़ा-खच्चरस्वामियोंकेचालानकाटेगए।

By Dodd