जम्मू,जागरणसंवाददाता:जम्मू-कश्मीरखेलनीति2022आनेकेबादखिलाड़ियोंकाउत्साहसातवेंआसमानपरदिखरहाहै।इसीकापरिणामहैकिमौलानाआजादस्टेडियममेंअभ्यासकरनेकेलिएआनेवालेखिलाड़ियोंकीसंख्यादिनप्रतिदिनबढ़तीहीजारहीहै।बेशकअभीपरीक्षाओंकासमयहै,उसकेबावजूदएमएस्टेडियममेंखिलाड़ियोंकाखूबरशहै।एमएस्टेडियममें20केकरीबखेलोंकापरीक्षणदियाजाताहै।लगभगहरखेलमेंपरीक्षणलेनेवालेखिलाड़ियोंकाकाफीअच्छारिस्पांसहै।खासकरस्केटिंग,जिम्नास्टिक,फेंसिंग,बास्केटबाल,बाक्सिंग,जूडोआदिखेलोंमेंअभ्यासकरनेवालोंकीसंख्याकाफीज्यादाहै।

अमूमनफरवरीमहीनेमेंबच्चोंपरपरीक्षाओंकादबावहोताहै,जिसकेचलतेफरवरीमार्चमहीनेमेंअक्सरमैदानोंमेंखिलाडीनहींदिखतेथेलेकिनइसवर्षबच्चेपढ़ाईकेसाथ-साथखेलनेमेंभीकोईकसरनहींछोड़नाचाहते।फेंसिंगकासबजूनियरऔरसीनियरलड़कियोंऔरलड़कोंकाप्रशिक्षणएवंचयनशिविरचलरहाहै।जूडो़काेचसूरजभानसिंहनेबतायाकिवहइनदिनोंपैरोओलंपिकजूडोप्रतियोगिताकेट्रायलकरवानेकेलिएखिलाड़ियोंकादिल्लीलेकरजानेकीतैयारीमेंजुटेहुएहैं।

दूसरेखिलाड़ियोंकाअभ्यासभीनियमितचलरहाहै।वहींजिम्नास्टिककोचअनुसारउनकीखेलकोलेकरशुरूसेहीजम्मूमेंकाफीउत्साहरहाहै।जिनखेलोंकेभीपरिणामअच्छेरहेहैं।उनखेलोंमेंशुरूसेहीखिलाड़ियोंकीसंख्याअच्छीरहीहै।पहलेकुछखेलोंकापरीक्षणलेनेहीखिलाड़ीआतेथेलेकिनजबसेजम्मू-कश्मीरखेलनीतिआईहै।लगभगहरखेलमेंभागलेनेकेलिएखिलाड़ीपहुंचरहेहैं।

एमएस्टेडियमप्रबंधकसतीशमहाजनअनुसारजिसदिनसेनईखेलनीतिआईहै।लगातारविभिन्नखेलोंमेंदाखिलालेनेवालेखिलाड़ीपहुंचरहेहैं।अक्सरस्कूलोंमेंछुट्टियांहोनेपरइतनेबच्चेदाखिलालेनेपहुंचतेथे।जितनेइनदिनोंपहुंचरहेहैं।हरखेलकेबच्चेकाफीउत्साहितहैं।टेबल,टेनिस,कबड्डी,किकबाक्सिंगसेलेकरलगभगहरखेलमेंनएदाखिलेलगातारहोरहेहैं।खिलाड़ियोंकीसंख्याबढ़नेकाएककारणयहभीहैकिखेलोंमेंढांचागतसुविधाओंकाअभावनहींहै।खिलाड़ियोंकोअच्छीसुविधाएंमिलरहीहैं।लोगखेलोंकोलेकरजागरूकभीहुएहैं।

By Farmer