आगरा,जेएनएन। कोरोनासंक्रमणकीदूसरीलहरकेसाथहीजड़ी-बूटीभीमहंगीहोगईहैं।कोरोनाकर्फ्यूलगनेकेबादट्रांसपोर्टतोनहींथमा,लेकिनआपकीरोगप्रतिरोधकक्षमताकोमजबूतकरनेवालीजड़ीबूटीजरूरमहंगीहोगईहै।कारोबारीदिल्ली-लखनऊमेंबिगड़ेकोविडकेहालातकोइसकाकारणमानरहेहैं।जड़ी-बूटीकाव्यवसायकरनेवालेअपनेप्रतिष्ठानकोपूरीक्षमतासेनहींचलारहे।जिसकेचलतेथोकऔरफुटकरबाजारमेंइनकीकीमतोंमेंजबरदस्तउछालआयाहै।

मथुरामेंपिथौरागढ़,अमृतसर,हाथरस,मिर्जापुर,मध्यप्रदेशकेनीमच,दिल्लीऔरलखनऊसेआयुर्वेदिकऔषधिआतीहै।दिल्लीमेंकोरोनाकर्फ्यूकेबादआपूर्तिप्रभावितहोगईहै।जबकिलखनऊमेंकोविडकेबिगड़ेहालातकेबादव्यापारियोंनेखुदहीप्रतिष्ठानपरकामबंदकरदियाहै।ऐसेमेंउपलब्धतानहींहोनेसेथोककेदाममेंदोगुनातककाउछालआयाहै,जबकिफुटकरबाजारमेंपीपल,मुलेठी,लौंग,लसौड़ा,गुलबनपसामुंहमांगेदामोंमेंबिकरहेहैं।

रोगप्रतिरोधकक्षमताबढ़ानेकेफेरमेंबढ़ीमांग

कोविडमेंरोगप्रतिरोधकक्षमताबढ़ानेवगलेकीपरेशानियोंदूरकरनेकोलोगपुरानेपरंपरागतकाढ़ाकीतरफलौटरहेहैं।जिसमेंलौंग,मुलेठीसमेतकईऔषधियोंकाप्रयोगहोरहाहै।इससेमांगएकसाथबढ़गईहै।

इसतरहबढ़गईमहंगाई

:सामग्री-थोक(पूर्वमें)-वर्तमान

बड़ीइलायची-850-1000

गुलसीश्यामा-150-200

(नोट-सभीरेटप्रतिकिग्रामेंहैं)

बाजारमेंएकसाथमांगबढ़गईहै।लखनऊऔरदिल्लीकाबाजारखुलनहींपारहाहै।जिसकीवजहसेमालनहींमिलपारहाहै।ट्रांसपोर्टरभीमालकोसमयसेउपलब्धनहींकरापारहेहैं।थोकमेंरेटबढ़गएहैं।क्योंकिपहलेकीतरहमालकीआपूर्तिनहींहोपारहीहै।

महेशगुप्ता,दुकानदार

जैसे-जैसेसंक्रमितमरीजोंकीसंख्याबढ़रहीहै।वैसे-वैसेजड़ी-बूटीकीमांगबढ़रहीहै।आपूर्तिहोनहींपारहीहै।जिसकीवजहसेथोकविक्रेताओंने25से30फीसदतकफुटकरकेदामबढ़ादिएहैं।आपूर्तिसीमितऔरमांगअधिकहोगईहै।थोकमेंमहंगामिलनेकीवजहसेफुटकरमेंभीमहंगाबेचनापड़रहाहै।

संतोषसिंह,दुकानदार

By Fisher