जागरणसंवाददाता,कन्नौज:पंचायतचुनाववअधिकारियोंकेकोविडपॉजिटिवहोनेकाफायदासरकारीक्रयकेंद्रप्रभारीवव्यापारीउठारहेहैं।व्यापारीहरदोईसेगेहूंखरीदकरकिसानोंकेनामसेजिलेमेंबेचरहेहैं।एककिसाननेबतायाकिहरदोईमेंकिसानोंसे1500रुपयेप्रतिक्विंटलगेहूंखरीदाजारहाहै।भुगतानभीव्यापारीनकदकररहेहैंऔरसीमासेसटेमियागंजमेंखुलेसरकारीकेंद्रपर1975रुपयेप्रतिक्विंटलमेंलाकरबेचरहेहैं।इसकारणजिलेकेकिसानोंकानंबरनहींआताहैऔरलक्ष्यपूराहोजाताहै।इसीतरहअन्यपड़ोसीजिलोंसेसीमाकेपासखुलेकेंद्रोंपरखरीदहोतीहै।

केंद्रप्रभारीविनयनेइसआरोपकोगलतबताया।उनकाकहनाथाकिअबतक1156क्विंटलखरीद19किसानोंसेकीहै।नौकिसानोंकोभुगतानकरचुकेहैं।हालांकि,किसानोंकीअपेक्षाखरीदअधिकबताई।

दूसरेकेहवालेकेंद्र,प्रभारीनदारद

अधिकांशक्रयकेंद्रपरप्रभारीनहींबैठतेहैं,लेकिनबैनरपरनंबरदर्जहैं।कहींनिजीकर्मचारीलगारखेहैंतोकहींआसपासकेलोगोंवबिचौलियोंकोकेंद्रहवालेकररखेहैं।मियागंजकेंद्रकीपड़तालकीतोयहांप्रभारीनहींमिले।पल्लेदारआसपासकेदुकानदारोंमेंएक-दूसरेकोप्रभारीबतातेरहे।सिर्फबिनासफाईकेसीधेतौलकरखरीदकीजातीरही।कितनेऔरकिनकिसानोंसेखरीदकीगईइसकेभीअभिलेखनहींदिखासके।

30हजारक्विंटलहुईखरीद

जिलेमेंगेहूंखरीदके37केंद्रखोलेगएहैं।जहां20अप्रैलकेबादसेखरीदशुरूहुईथी।खरीदमेंपारदर्शिताकेलिएपीओपीमशीनमिलनीथी,जोनहींमिली।इसलिएपहलेकीतरहखरीदकामौकामिलातोधांधलीहोनेलगीहै।अबतकजिलेमें30हजारक्विंटलखरीदहोचुकीहै।डिप्टीआरएमओसमरेंद्रप्रतापसिंहनेबतायाकिकोरोनासंक्रमितहोनेकेकारणकामनहींदेखपारहेहैं।फिरभीजानकारीकरकार्रवाईकरेंगे।

By Doherty