जागरणसंवाददाता,चंडीगढ़:दोसितंबरसेशहरकेस्कूलोंमेंपांचवीऔरछठीक्लासकेस्टूडेंट्सभीआफलाइनक्लासलगासकेंगे।यहआदेशजिलाशिक्षाअधिकारीप्रभजोतकौरनेशहरकेसभीस्कूलकोजारीकिएहैं।निर्देशकेअनुसारस्टूडेंट्सकोस्कूलआनेकेलिएअभिभावककीमंजूरीलेनीअनिवार्यहोगी।स्टूडेंटकोस्कूलछोड़नेऔरवापसलेकरजानेकीजिम्मेदारीभीअभिभावककीरहेगी।स्टूडेंटकोसुबहसाढ़ेआठबजेतकस्कूलपहुंचनाहोगा।नौबजेसेदोपहरएकबजेतकस्टूडेंटकीपढ़ाईहोगी,जबकिअध्यापकसुबहआठबजेसेदोबजेतकस्कूलमेंरहेंगे।

स्कूलमेंनहींबनेगामिड-डेमील

स्कूलमेंआफलाइनस्टूडेंट्सआनेकेसाथहीस्कूलोंकोक्लियरकियागयाहैकिस्कूलमेंकिसीप्रकारकामिड-डेमीलनहींबनायाजाएगा।मिड-डेमीलकासूखाराशनस्टूडेंटकोस्कूलमेंमुहैयाकरायाजाएगा।स्टूडेंटघरसेहीखुदकाखानालेकरआएगा।स्टूडेंट्सकोएकसाथबैठकरपढ़नेसेलेकरखेलनेकीअनुमतिनहींहोगी।मास्ककेसाथफिजिकलडिस्टेसिगकापालनअनिवार्य

स्कूलमेंआनेवालेस्टूडेंट्सकेपासमास्कअनिवार्यतौरपरहोनाचाहिए।मुख्यगेटपरतापमानचेकहोनेपरहीस्टूडेंटकोस्कूलगेटपरएंट्रीमिलेगी।क्लासरूममेंस्टूडेंटकोफिजिकलडिस्टेसिगकापालनकरनाहोगा।स्कूलकोस्टूडेंट्सकेलिएदोसेतीनजगहपरसेनिटाइजरकीव्यवस्थाअनिवार्यकरनीहोगी।30से35फीसदआरहेहैंसातवींसे12वींकेस्टूडेंट्स

कोरोनाकीदूसरीलहरथमनेकेबादशहरकेस्कूलोंमेंपहलेनौवींसे12वींऔरउसकेबादसातवींऔरआठवींकक्षाकेस्टूडेंट्सकोस्कूलबुलायाजारहाथा।जुलाईऔरअगस्तकेअंततकसातवींसे12वींके30से35फीसदस्टूडेंट्सआफलाइनक्लासकेलिएस्कूलमेंपहुंचरहेहैं।