अतिथितुमकबजाओगे

शहरमेंमुरथलअड्डास्थितराजकीयकन्यावरिष्ठमाध्यमिकविद्यालयमेंसरकारनेमहिलाकॉलेजशुरूतोकरदियाहै,लेकिनस्कूलकीछात्राओंकेखेल-कूदपरपाबंदीपरलगगईहै।छात्राएंखालीसमयमेंपरिसरमेंनखेलकूदपातीहैंऔरनहीअन्यशैक्षणिकगतिविधियांकरसकतीहैं,क्योंकिइससेकॉलेजकीछात्राओंकीकक्षाओंमेंबाधाआतीहै।स्कूलकीछात्राएंनचाहकरभीकॉलेजकीतरफपरिसरमेंचुपचापबैठीरहतीहै।अगरवेअपनेमनोरंजनकेलिएकोईगतिविधिकरतीहैंतोतुरंतकॉलेजकीतरफसेचुपहोनेकेआदेशआजातेहैं।इससेनकेवलछात्राएं,बल्किस्कूलस्टाफभीपरेशानहैं।हालांकियहीहालकॉलेजकेस्टाफवछात्राओंकाभीहै,लेकिनवहकिसीकोअपनीपरेशानीबतानहींसकतीं।स्कूलीछात्राओंवस्टाफकीचर्चासेयहीलगताहैकिवेहमेशासोचतेहैंकिअतिथितुमकबजाओगे।

अभियानछात्राओं-शिक्षिकाओंका,श्रेयलेगयास्वास्थ्यविभाग

बेटीबचाओ-बेटीपढ़ाओअभियानचलानेवालीशिक्षिकाएंस्वास्थ्यविभागकीरिपोर्टसेबड़ाअसहजमहसूसकररहीहैं।बातभीसहीहैकामकरेंये,श्रेयलेवो।हुआयूंकिमुरथलमेंबेटीबचानेऔरपढ़ानेकेअभियानकोगांवकेकॉलेजकीशिक्षिकाएंछात्राओंकेसाथमिलकरचलारहीहैं।इसकाअसरभीआया।मुरथललिगानुपातमेंजिलेभरमेंअव्वलदर्जेपरपहुंचगया।रिकॉर्डतोसेहतवालेसाहबकोहीरखनाथा।उन्होंनेभीअपनेपक्षमेंरिपोर्टतैयारकीऔरशासनकोभेजदी।उसमेंनशिक्षिकाओंकानामऔरनछात्राओंकाजिक्र।परेशानशिक्षिकाएंएकहीबातकहतीहैंकिअभियानरिपोर्टमेंनामआनेकेलिएनहींचलाया,लेकिनसाहबहमारेकामकाश्रेयलेनेसेपहलेएकबारतोहमारेसेभीचर्चाकरलेते।यहमामलाशिक्षिकाओंकेसाथहीकॉलेजकेअधिकारियोंमेंभीचर्चाकाविषयबनाहुआहै।अन्यकॉलेजोंमेंभीमिलेसरकारीअधिकारी-कर्मचारियोंकीतरहवेतन

सरकारीहोयानिजीकर्मचारी,हरकोईचाहताहैकिउनकावेतनमहीनेकीपहलीतारीखकोमिले।इसकेबादवहवेतनकोअपनेघरेलूकार्योंकेअलावाअन्यसुविधाओंपरखर्चकरें,लेकिनजबउनकेसामनेवेतनकासंकटहीआजाएतोउन्हेंघरकाखर्चहीचलानामुश्किलहोजाताहै।यहीसंकटजिलेमेंसरकारीसहायताप्राप्तकॉलेजोंकेनियमितवपेंशनधारीअधिकारी-कर्मचारियोंकेसामनेबनाहुआहै।पिछलेएकवर्षसेअधिकारी-कर्मचारीसंकटकीमारझेलरहेहैं।अबउनमेंचर्चाहैकिहरमहीनेवेतनदेरीसेआनेकेकारणउनकेसामनेरोजमर्राकेखर्चोंसेनिपटनेमेंदिक्कतआरहीहै,जबकिसरकारीअधिकारी-कर्मचारीसमयपरवेतनमिलनेसेमौजकररहेहैं।उनकाकहनाहैकिप्रदेशकाशिक्षानिदेशालयवेतनकेबिलतोहरमहीनेहीपासकरताहै,लेकिनमजाजबहैजबयहसरकारीअधिकारी-कर्मचारियोंकीतरहमिले।इसीतर्जपरहरजरूरतमंदकोमिलेएंबुलेंससेवा

एंबुलेंसकीसुविधाआजमानवजीवनकीसुरक्षामानीजातीहै।इसकेबावजूदजिलेमेंकईबारएंबुलेंससेवाकाअभावरहताहै।इससेजहांमहिलाओंकीकईबारडिलीवरीघरोंयानिजीवाहनोंमेंहोतीहै,बल्किकईदुर्घटनाओंमेंघायलभीदमतोड़देतेहैं।इसकेबावजूदस्थितिमेंसुधारनहींहोरहा,लेकिनजबसरकारीकार्यक्रमहोताहैतोएंबुलेंसकीसुविधाबेहतरदिखतीहै।इससेलोगोंमेंचर्चाहैकिऐसीसुविधासबकोमिले।मौकाथामुरथलस्थितदीनबंधुछोटूरामविज्ञानएवंप्रौद्योगिकीविश्वविद्यालयमेंक्वार्टरमैराथनका।मैराथनमेंप्रदेशकेविभिन्नशिक्षणसंस्थानोंकेसैकड़ोंप्रतिभागियोंनेहिस्सालिया।इसमेंदौड़तेसमयकिसीप्रतिभागीकोस्वास्थ्यसंबंधीदिक्कतनहो,इसकेलिएचारएंबुलेंसकोदौड़ायागया।एकप्रतिभागियोंकेसाथ,बाकीतीनबीचरास्तेमेंरहीं।इसदौरानलोगोंमेंचर्चाथीकिइसीतरहहरजरूरतमंदकोएंबुलेंसकीसुविधामुहैयाहो।

By Ellis