चंडीगढ़[विकासशर्मा]।कोरोनाकेखिलाफजंगमेंभारतीयसेनानेहरस्तरपरअपनीतैयारीतेजकरदीहै।सेनानेसंक्रमणकेबढ़तेहुएमामलोंकोदेखतेहुएएकओरजहांराज्योंसरकारोंकोहरसंभवमदददेनेकीघोषणाकीहै,वहींकईजगहोंपरअस्थाईअस्पतालोंकेनिर्माणकार्यभीशुरूदियाहै।

इसमुश्किलघड़ीमेंभीसेनानेअपनेपूर्वसैनिकोंवसैन्यअधिकारियोंकोखासतौरपरडीओलेटर(DemiOfficial)लिखकरभरोसादिलायाहैकिजैसेहीउन्हेंयाउनकेपरिवारकोविड-19कीवजहसेस्वास्थ्यसंबंधीकोईदिक्कतहोवहतुरंतसेनाअस्पतालमेंसंबंधितअधिकारियोंसेसंपर्ककरें,उन्हेंइलाजवऑक्सीजनसंबंधीकोईदिक्कतनहींहोगी।इसबातकीजानकारीखुदवेस्टर्नकमांडनेट्वीटकेमाध्यमसेदीहै।इतनाहीनहींवेस्टर्नकमांडनेइसट्वीटकेसाथडीओलेटरभीअपलोडकियाहै,जिसपरतमामजानकारीउपलब्धहै।

दिक्कतहोनेपरइननंबरोंपरकरेंसंपर्क

कमांडअस्पतालचंडीगढ़-0172-25544899

एमएचअंबाला-0171-2641025

एमएचजालंधर-0181-2661632

एमएचअमृतसर-7717304031(मोबाइल)

एमएचपठानकोट-8288095910(मोबाइल)

एमएचजम्मू-0191-2432653

एमएचशिमला-0177-2837365

वहींइसकेअलावाकोविड-19मैनेजमेंटसेसंबंधीकोईदिक्कतहोतोआपइसहेल्पलाइननंबंर96330012117परसंपर्ककरसकतेहैं।

दोसालमेंरिटायरहुएस्वास्थ्यकर्मियोंकोवापसबुलाया

वेस्टर्नकमांडनेयुद्धस्तरपरकोरोनासेनिपटनेकेलिएपिछले2सालमेंरिटायरहुएअपनेसभीस्वास्थ्यकर्मियोंकोकामपरवापसबुलायाहैऔरउन्हेंभरोसादियाहैकिइनस्वास्थ्यकर्मियोंकीउनकेघरकेकरीबहीकोविडसेंटर्समेंतैनातहोगी।इसकेअलावादूसरेमेडिकलअफसरजिन्होंनेकाफीपहलेरिटायरमेंटलियाथा,उन्हेंभीमेडिकलइमरजेंसीहेल्पलाइंसमेंकंसल्टेशनदेनेकेलिएकहागयाहै।इसकेअलावाजोपूर्वसैनिकमेडिकलक्षेत्रसेनहींहैंवहभीबतौरवलंटियरकोरोनाकेखिलाफइसलड़ाईमेंअपनायोगदानदेसकतेहैं।

फैसलेपरखुशीजताई

रिटायर्डकर्नलगुरसेवकसिंहकाकहनाहैकिइसडीओलेटरमेंआर्मीकमांडरनेनसिर्फआश्वासनदियाहै,बल्किसंबंधितसैन्यडॉक्टरोंकेमोबाइलनंबरभीदिएहैं।जिसपरबातकरपूर्वसैनिकवसैन्यअधिकारीउनसेअपनीस्वास्थ्यसंबंधीदिक्कतोंकेबाबतबातकरसकतेहैं।इतनाहीअगरकोईदिक्कतहोगी,तोयहडॉक्टरपूर्वसैनिकोंकेअस्पतालपहुंचनेसेपहलेहीउनकेलिएबैड्ससेसंबंधिततमामतरहकीऔपचारिकताओंकोपूराकरेंगे,ताकिदिक्कतनहो।उन्होंनेबतायाकिवहचंडीगढसेक्टर-13केमाडर्नहाउसिंगकांप्लेक्सरेजिडेंसवेलफेयरएशोसिएशनकेभीप्रेसिडेंटहैंऐसेमेंइसीकांप्लेक्समें60से70पूर्वआर्मीअफसरहैं,जोइसफैसलेसेखासेखुशहैं।

रिटायर्डविंगकमांडरसतीशभाटियाकाकहनाहैकि कोरोनासंक्रमणकीवजहसेरोजानाहजारोंलोगोंकीमौतहोरहीहै।ऐसेमेंहरकोईअपनीऔरअपनेपरिवारकीसेहतकोलेकरचिंतितहै।ट्राईसिटीमेंछहहजारकेकरीबपूर्वसैनिकपरिवाररहतेहैं।वेस्टर्नकमांडकीतरफसेपूर्वसैनिकोंकेलिएऐसीघोषणाकरनाकाफीराहतभराहै।

By Doyle