संवादसहयोगी,साहिबाबाद:राजेंद्रनगरसेक्टरदोस्थितईएसआइसीअस्पतालकीस्टाफनर्सप्रीतिप्रभाकोरोनासंक्रमितोंकाउपचारकररहींहैं।उनकाकहनाहैकिनियमितरूपसेगर्मपानीपीनेऔरयोगकरनेसेकोरोनासंक्रमणकोमातदीजासकतीहै।वहघरसेदूररहनेकेबादभीपारिवारिकजिम्मेदारियोंकानिर्वाहकरतेहुएड्यूटीकररहींहैं।

साहिबाबादकेशालीमारगार्डनमेंप्रीतिप्रभाअपनेपतिमनीषकुमारऔरतीनवर्षीयपुत्रमानविककेसाथरहतींहैं।वहईएसआइसीअस्पतालमेंस्टाफनर्सहैं।उन्होंनेबतायाकिईएसआइसीअस्पतालकोप्रशासनद्वारामाहमेंकोविडअस्पतालबनायागयाथा।जिसकेबादसेवहकोरोनासंक्रमितोंकाउपचारकररहीहैं।डयूटीकेदौरानवहअन्यस्टॉफकेसाथगाजियाबादस्थितएकहोटलमेंरुकींहैं।ऐसेमेंघरनजापानेपरवहवीडियोकालकरबेटेऔरपतिसेबातकरतीहैं।उन्होंनेबतायाकिलॉकडाउनहटनेकेबादलोगसंक्रमणकेप्रतिलापरवाहहोगएहैं।लोगमास्कऔरसैनिटाइजरकाप्रयोगनहींकररहेहैं।उन्होंनेबतायाकिसंक्रमणसेबचनेकेलिएलोगकोनियमितरूपसेगर्मपानी,विटामिनसीऔरताजेफलकासेवनकरनाचाहिए।प्रतिदिनयोगकरनेसेसंक्रमणपरकाबूपायाजासकताहै।उन्होंनेबतायाकिअस्पतालसेअबतक860सेअधिककोरोनासंक्रमितस्वस्थहोकरघरजाचुकेहैं।

By Dunn