नईदिल्ली:चीनकेवुहानसेशुरूहुएकोरोनावायरससेकोईभीदेशअछूतानहींहै।अबरोजानालाखोंकीसंख्यामेंनएमामलेसामनेआरहेहैं।इसबीचसालकेअंततककोरोनावायरसकीवैक्सीनबाजारमेंआनेकीउम्मीदहै।जिसकोलेकरWHOनेसभीदेशोंसेखासअपीलकीहै।साथहीचेतावनीदीहैकिअगरसभीदेशएकजुटनहींहुएतोमहामारीकाअंतमुश्किलहै।

बर्लिनमेंतीनदिवसीयविश्वस्वास्थ्यशिखरसम्मेलनकेउद्घाटनपरWHOचीफटेड्रोसएडनॉमघेब्येयियसनेकहाकियेबातस्वाभाविकहैकिसभीदेशअपनेनागरिकोंकोपहलेवैक्सीनदेनाचाहतेहैं,लेकिनहमेंइसकाप्रभावीढंगसेउपयोगकरनाचाहिए।उन्होंनेचेतावनीदेतेहुएकहाकिअगरटीकेकोलेकरराष्ट्रवादहुआतोयेमहामारीकोऔरलंबाखींचदेगा।ऐसेमेंकोरोनामहामारीसेउबरनेकाएकमात्रतरीकाहैकिसभीएकसाथआएंऔरगरीबदेशोंतकभीकोरोनावायरसकीवैक्सीनकोउचितमात्रामेंपहुंचायाजाए।

कोरोनाके70लाखसेज्यादामरीजठीक,आजमिले45149नएकेस

टेड्रोसनेआगेकहाकिउत्तरीगोलार्धमेंकईदेशोंकेलिएयहएकखतरनाकक्षणहै।बार-बारहमनेदेखाहैकिजल्दीसेसहीकदमउठानेकामतलबहैकिमहामारीकेप्रकोपकोकमकियाजासकताहै।वहींकार्यक्रममेंसंयुक्तराष्ट्रमहासचिवएंटोनियोगुटेरेसनेकहाकिवैक्सीनकोसार्वजनिकरूपसेअच्छाहोनाचाहिए।वैक्सीन,टेस्टऔरथेरेपीसेज्यादाजानेंबचसकतीहैं।इसकेसाथहीअर्थव्यवस्थाकोभीसहीकरनेमेंइसकीअहमभूमिकाहोगी।

By Duncan