नयीदिल्लीछहमई(भाषा)कोरोनावायरसमहामारीपरनियंत्रणपायेजानेतकदेशकीराजधानीमेंशराबकीदुकानोंकोबंदरखनेकाआपसरकारकोनिर्देशदेनेकेलियेदिल्लीउच्चन्यायालयमेंबुधवारकोएकजनहितयाचिकादायरकीगयी।इसयाचिकाकोशीघ्रसुनवाईकेलियेसूचीबद्धकरनेकेबारेमेंउल्लेखकियागया।याचिकापरआठमईकोसुनवाईहोनेकीउम्मीदहै।यहयाचिकागैरसरकारीसंगठनसिविलसेफ्टीकाउन्सिलआफइंडियानेदायरकीहै।याचिकामेंबगैरकिसीयोजनाऔरभीड़केप्रबंधनकेबारेमेंकिसीतैयारीकेबिनाहीशराबकीदुकानेंखोलनेकेबारेमेंदिल्लीसरकारऔरउसकेआबकारीविभागकेफैसलेकोचुनौतीदीगयीहै।अधिवक्ताअरविन्दवशिष्ठकेमाध्यमसेदायरयाचिकामेंकहागयाहैकिदिल्लीकीजनतापिछलेकईदिनसेलॉकडाउनकेनियमोंकापालनकररहीथी,लेकिनशराबकीदुकानेंखोलनेकेबारेमेंतीनमईकीअधिसूचनानेसारेकियेधरेपरपानीफेरदियाहैऔरअबइससेनागरिकोकीजिंदगीकोखतराहोसकताहै।याचिकामेंकहागयाहैकिदिल्लीसरकारकेइसफैसलेकेबादशराबकीदुकानोंकेबाहरबड़ीसंख्यामेंलोगोंकीलाइनेंलगगयींऔरसामाजिकदूरीबनायेरखनेकेनियमोंकीघज्जियांउड़गयी।याचिकामेंकहागयाहैकिचारमईकोसरकारनेसभीब्रांडकीशराबकीअधिकतमकीमतकेऊपर70प्रतिशतविशेषकोरोनाशुल्कलगादियालेकिनइसकेबावजूदशराबकीदुकानोंकेबाहरबड़ीसंख्यामेंलोगोंकीकतारनजरआतीरही।

By Evans