जागरणसंवाददाता,ओबरा(सोनभद्र):कोरोनाकालमेंखेलोंमेंआईरुकावटनेबड़ेस्तरकेभीखिलाड़ियोंकोखासाप्रभावितकियाहै।जहांभारतीयक्रिकेटकंट्रोलबोर्डरणजीस्तरतककेखिलाड़ियोंकोलाखोंरुपयेमेहनतानादेताहैवहींभारतीयदिव्यांगटीमकेखिलाड़ीआर्थिकसंकटझेलरहेहैं।आर्थिकसंकटझेलरहेभारतीयदिव्यांगटीमकेउपकप्तानअनपरानिवासीलववर्माकीमददकेलिएअपनादल(एस)कीराष्ट्रीयअध्यक्षवमीरजापुरकीसांसदअनुप्रियापटेलनेयुवामामलोंऔरखेलराज्यमंत्रीकोपत्रभेजलववर्माकीअपेक्षितमददकीमांगकीहै।उपकप्तानलववर्माभारतकेलिए27अंतरराष्ट्रीयमैचखेलचुकेहैं।वर्ष2015मेंहुएएशियाकपमेंभारतकोविजेताबनानेमेंउनकीप्रमुखभूमिकारही।श्रीलंकामेंहुईसीरीजमेंवहमैनआफदसीरीजभीरहचुकेहैं।साथहीबांग्लादेशमेंहुईट्राईसीरीजमेंभारतकोसंयुक्तविजेताबनानेमेंभीलवकीमहत्वपूर्णभूमिकारही।वेराष्ट्रीयस्तरकीआठप्रतियोगिताओंमेंभीउत्कृष्टप्रदर्शनकरचुकेहैं।उधर,अपनादल(एस)कार्यालयसेआनंदपटेलदयालूनेदी।उन्होंनेराष्ट्रीयअध्यक्षकेप्रतिआभारप्रकटकरतेहुएकहाकिलववर्मासोनभद्रकीशानहै।उनकीयहहालतपूरेजनपदकेलिएचिताकाविषयहै।

By Doherty