संवादसहयोगी,मोगा:करोड़रुपयेकीराशिस्ट्रीटलाइटोंकेलिएजारीहोनेकेबावजूदभीशहरमेंजहांबहुतसेइलाकोंकीस्ट्रीटलाइटखस्ताहालहोनेसमेतबंदपड़ीहुईहैं।वहींमोगाकेकोटकपूरामुख्यमार्गपरपिछले10वर्षोसेलगभगडेढ़सौस्ट्रीटलाइटनिगमकीअनदेखीकाशिकारहोचुकीहैं।

इसदौरानबहुतसीस्ट्रीटलाइटेंजहांअपनेस्थानसेगायबहोगई,वहींकुछखंबेभीअपनेस्थानपरनहींहैं।यहीनहींमोगाकेकोटकपूराबाईपासपरलगीलाइटेनजलनेसेवहांसेगुजरनेवालेराहगीरोंकेसाथ-साथशहरकरनेवालेलोगभीपरेशानहोतेहैं।इसकेबारेमेंकईबारसमाचारपत्रोंकेमध्यवहस्थानीयपार्षदोंकोभीबतायागयाहै।लेकिनसमस्याकासमाधाननहींकियागयाहै।कोटकपूराबाईपासकेआसपासलगभगछहसेज्यादावार्डजुड़ेहुएहैं,जिनकेलोगभीइसीरास्तेकाप्रयोगकरतेहैं।लाखोंकेस्ट्रीटलाइटकेपोलबनेहुएहैंशोपीस

इलाकेमेंरहनेवालेमनदीपसिंहनेबतायाकिमोगाकेपूरेकोटकपूराबाईपासपरलगभग20वर्षपहलेस्ट्रीटलाइटलगाईगईथी,लेकिनसड़ककेनवीनीकरणकेदौरानस्ट्रीटलाइटकेखंबेउखाड़दिएगएथे,जिसकेकारणआजलाखोंरुपयेकीलागतसेलगाएगएस्ट्रीटलाइटकेपोलशोपीसबनचुकेहैं।शहरमेंलगाईगईविशेषएलईडीसेलोगनहींहैसंतुष्ट

समाजसेवीमनीषकुमारनेकहाकिनगरनिगमद्वाराशहरमेंविकासकार्यकरनेकेलाखोंदावेकिएजारहेहैं,इसकेबावजूदइसशहरमेंविकासकार्यपटरीपरनहींआरहाहै।उन्होंनेकहाकिपिछलेदिनोंलोगोंसेलिएगएटैक्सकेरूपमेंपैसोंकाप्रयोगकरतेहुएनिगमनेशहरमेंविशेषप्रकारकीएलईडीलाइटलगाईगईथी,लेकिनआजवहबहुतसेस्थानोंपरबंदहोचुकीहैं।जिससेलोगविशेषप्रकारकीएलईडीसेसंतुष्टनहींहैं।निगमबनाअनजान:हितेश

मोगाकेकोटकपूराबाईपासपररहनेवालेहितेशसूदनेकहाकिइससड़कपरलगीस्ट्रीटलाइटेंपिछले10वर्षोंसेज्यादासमयसेबंदहै,इससमस्याकोलेकरउन्होंनेकईबारनिगमकेअधिकारियोंकोभीबताया।लेकिनउक्तसमस्याकासमाधाननहींहुआहै।उन्होंनेकहाकिनिगममेंतैनातअधिकारीअपनीमनमर्जीकरतेहुएकामकररहेहैं।कोट्स..

उक्तसमस्याकेसमाधानकेलिएएककंपनीकेपासठेकाहोगयाहै।जिसकेद्वाराआगामीदिनोंडेढसौप्वाइंटजगाएजारहेहैं।

पवन,नगरनिगमजेई।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!

By Farrell