सुपौल।सीमावर्तीकुनौलीपंचायतमेंप्रवासियोंकीदिनप्रतिदिनबढ़रहीसंख्याकोलेकरबनाएगएक्वारंटाइनसेंटरमेंफिजिकलडिस्टेंसिगमानककाअनुपालननहींहोपारहाहै।सभीलोगएकहीजगहएकत्रितहोकररहरहेहैं।सेंटरमेंसंख्याबलकेहिसाबसेनतोशौचालयहैऔरनाहीस्नानागार।स्थितियहहैकिखुलेमैदानमेंशौचकेलिएसेंटरकेप्रवासीजानेकेलिएमजबूरहोरहेहैं।जानकारीअनुसारपंचायतकीवार्डसंख्या9मेंबाढ़आश्रयस्थलक्वारंटाइनसेंटरमें96तथाकन्यामध्यविद्यालयसेंटरमें83प्रवासीहैं।क्वारंटाइनसेंटरपरदेखरेखकेलिएप्रतिनियुक्तकिएगएशिक्षकएवंसुरक्षागार्डभीशामहोतेहीअपनेघरचलेजारहेहैं।हालांकिप्रतिदिनअधिकारीसेंटरकानिरीक्षणकरअपनीखानापूरीजरूरकररहेहैं।कितुक्वारंटाइनसेंटरपरप्रवासियोंकेसाथहोरहीकठिनाइयोंकेबारेमेंकोईफीडबैकनहींलेरहेहैं।प्रवासीकीमानेंतोबाढ़आश्रयस्थलक्वारंटाइनसेंटरपरमात्रदोशौचालयहीचालूहै।सेंटरपररहरहे96लोगोंकोशौचकेलिएखुलेमैदानमेंजानापड़रहाहै।स्नानकरनेमेंभीकाफीपरेशानीहोरहीहै।यहीहालकन्यामध्यविद्यालयसेंटरकाभीहै।जबसेंटरसेलोगबाहरनिकलरहेहैंतोऐसेसेंटरकाऔचित्यक्यारहजाताहै।जल्दहीप्रशासनकोजागेश्वरउच्चविद्यालयकुनौलीएवंपंचायतकेअन्यविद्यालयोंकोसेंटरबनानाहोगा।तभीप्रवासियोंकीसंख्याबलसेंटरमेंकमहोगीऔरफिजिकलडिस्टेंसिगमानककेतहतभीप्रवासीसेंटरमेंरहसकेंगे।