नईदिल्लीइसवर्षदोमहत्वपूर्णराज्योंमेंचुनावहैं-दिल्लीऔरबिहारमें।बीजेपीकेलिएदोनोंराज्यबेहदमहत्वपूर्णहैंक्योंकिवहअपनेक्षेत्रीयप्रसारपरजोरदेरहीहै।केंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहनेबिहारविधानसभाकाचुनावमुख्यमंत्रीनीतीशकुमारकेनेतृत्वमेंजेडी(यू)केसाथगठबंधनमेंरहकरलड़नेकाऐलानकियाहै।इससेस्पष्टहोताहैकिकुछराज्योंमेंचुनावीमातखानेकेबादबीजेपीअपनीमहत्वाकांक्षासेतात्कालिकसमझौताकरनेकामनबनाचुकीहै।कईराज्योंमेंमिलीमातबीजेपीकेहाथसेसबसेपहले2018मेंमध्यप्रदेशकीसत्तानिकली,उसकेबादछत्तीसगढ़,राजस्थान,महाराष्ट्रऔरझारखंडतकसिलसिलाजारीरहा।पिछलेवर्षलोकसभाचुनावमेंभगवादलको303सीटोंकाजबर्दस्तसमर्थनप्राप्तहुआऔरपिछलेवर्षहीमहाराष्ट्र,झारखंडहाथसेनिकलभीगया।महाराष्ट्रमेंमुख्यमंत्रीपदकोलेकरमचीरारमेंसबसेपुरानेसाथीशिवसेनाकेअलगहोजानेकीखबरसबसेज्यादासुर्खियांबटोरी।इसेभीपढ़ें:दिल्लीः13सीटोंपरफंसापेच,अकालीभीचुपबिहारकामहत्वराज्यसभामेंबीजेपीकेनेतृत्ववालेराष्ट्रीयजनतांत्रिकगठबंधन(एनडीए)कोबहुमतनहींहै।इसीवर्षबिहारसेराज्यसभाकीपांचसीटेंखालीहोरहीहैं।फिर2022मेंपांचऔरसीटेंखालीहोंगी।ऐसेमेंबीजेपीकेहाथसेबिहारनिकलनेकामतलबहैकिउसेराज्यसभामेंभीतगड़ाझटकालगेगा।शिवसेनाकासाथछोड़नेसेउसकेतीनराज्यसभासांसदोंकासाथभीएनडीएकोनहींमिलनेवाला।राज्योंसेयूंसिमटरहाभगवा।दिल्ली:सत्तापानेकोBJPनेकैसेचुने'खिलाड़ी'बिहारीहोनेकामहत्वदोदशकोंसेभीज्यादावक्तसेबीजेपीदिल्लीकीसत्तासेदूरहै।राष्ट्रीयराजधानीमेंबिहारीवोटरोंकीबड़ीसंख्याहै।आंकड़ोंकेमुताबिक,दिल्लीमेंबिहारियोंकीआबादीकुल31प्रतिशतहैजो2001में14प्रतिशतथी।बिहारछोड़नेवालोंकीसबसेबड़ीआबादी18.3प्रतिशतदिल्लीआतीहैऔरइनमें40प्रतिशतयहांकेदोजिलोंनॉर्थवेस्टऔरवेस्टमेंनिवासकरतीहै।दिल्लीमेंBJPके57उम्मीदवारघोषित,लिस्टयहीवजहहैकिबीजेपीदिल्लीमेंभीजेडी(यू)कोकुछसीटेंदेनेपरविचारकररहीहै।इतनाहीनहीं,उसनेप्रदेशबीजेपीकाअध्यक्षभीभोजपुरीअभिनेतामनोजतिवारीकोबनारखाहै।इनसबकवायदकामकसदपूर्वांचलियों(झारखंड,बिहारऔरपूर्वीउत्तरप्रदेश)कोरिझानाहै।कांग्रेसनेभीबिहारमेंअपनेगठबंधनसाथीराष्ट्रीयजनतादल(आरजेडी)कोदिल्लीविधानसभाचुनावमेंभीकुछसीटदेनेपरविचारकररहीहै।

By Farmer