जागरणसंवाददाता,राउरकेला:सुंदरगढ़जिलेमेंकोहड़ाकीखेतीकेलिएलहुणीपाड़ाब्लाककेखुटगांवइलाकेकीपहचानहै।इलाकेकेप्रत्येकपरिवारकेलोगकोहड़ाकीखेतीकरतेहैंएवंइसेबेचकरपरिवारकेभरणपोषणकेलिएसालभरकाखर्चनिकालतेहैं।किसानलैंपसएवंबैंकोंसेइसकेलिएऋणलिएहुएहैं।खेतोंमेंफसलतैयारहोचुकीहैपरखरीदारनहींमिलरहेहैं।फसलकोरखनेकेलिएभीकोईगोदामनहींहै।महीनेभरमेंइनकीबिक्रीनहींहुईतोबारिशशुरूहोजाएगीएवंखेतोंमेंफसलबर्बादहोगी।किसानोंकोइसकीचितासतानेलगीहै।

लहुणीपाड़ा,खुटगांवएवंआसपासकेकिसानखरीफधानकीफसलकटनेकेबादहीअपनेखेतोंमेंकोहड़ाकीखेतीशुरूकरदेतेहैं।हरपरिवारमेंदोतीनएकड़मेंइसकीखेतीहोतीहै।कृषिकेलिएराज्यस्तरपरपुरस्कारप्राप्तकिसानसुवर्णकुमराएवंकाशीनाथनायकनेबतायाकिइससालमौसमअच्छाहोनेकेकारणफसलअच्छीहुईहै।कोरोनाकालमेंमार्चमहीनेसेहीइसकीबिक्रीधीमीहोगईहै।अधिकतरकिसानबीजवखादकेलिएलैंपसएवंबैंकसेऋणलेरखेहैं।खुटगांवपंचायतकेमतवालीनाला,बाबाजीटोटो,खुटगांवकुदर,मोड़ीकलनालाआदिकेप्रवासक्षेत्रमेंइसकीखेतीअधिकहोतीहै।यहांकेकिसानखुटगांव,लहुणीपाड़ा,बणई,विमलगढ़,देवगढ़,बारकोट,अनुगुल,पाललहाड़ा,ढेंकानाल,झारसुगुड़ा,राउरकेला,कटक,खोद्र्धा,भुवनेश्वरकेबाजारोंमेंकोहड़ाभेजतेथे।उनक्षेत्रोंकेव्यापारीवाहनलेकरयहांआकरकोहड़ासंग्रहकरलोगोंकोपैसादेकरजातेथे।यहकोहड़ाबिक्रीकासमयहैपरव्यापारीइसेखरीदनेकेलिएनहींपहुंचरहेहैं।कोरोनाकेचलतेआसपासकेहाट-बाजारभीबंदहैं।किसानकोहड़ाकाटकरजहांतहांजमाकररखरहेहैंजोधूपमेंसूखनेकेसाथबर्बादहोरहाहै।होटलोंमेंपेडक्वारंटाइनकीसुविधा:राउरकेलामहानगरनिगमकीओरसेकोरोनाकाललोगोंकेलिएभाड़ेपरहोटलोंमेंपेडक्वारंटाइनकीसुविधाउपलब्धकरायीगईहै।नगरनिगमकीओरसेइसकेलिएहोटलोंकीसूचीजारीकरदीगईहै।निर्धारितराशिभुगतानकरलोगहोटलोंमेक्वारंटाइनकीअवधिबितासकतेहैं।

शहरमेंबाहरसेआनेवालेलोगोंकेसंक्रमितहोनेएवंघरजानेपरपरिवारकेलोगोंकेसंक्रमितहोनेकीआशंकाबनीहुईहै।सरकारकीओरसेबनाएगएक्वारंटाइनसेंटरमेंसुविधानहींहोनेकेकारणलोगदूसराविकल्पतलाशरहेहैं।इसपरिस्थितिमेंहोटलमेफेयरमें3500रुपये,जेपीहाइट्सपानपोषरोडमें2000रुपये,होटलअनुरागगुरुद्वारारोडमें2000रुपये,होटलग्रीनएपलमेनरोडडेलीमार्केटमें999एवं1200रुपयेतथाजीएसटीअलगसेदैनिकभुगतानकरक्वारंटाइनमेंरहनेकीसुविधाहै।राउरकेलामहानगरनिगमकीओरसेउपयोगकरनेकेइच्छुकलोगोंसेसंबंधितहोटलोंसेसंपर्ककरनेकाअनुरोधकियागयाहै।

By Dunn