संतकबीरनगर:क्षेत्रकेलोहरौलीबाजारनिवासीएक11वर्षीयबच्चेकीरविवारकीदेररातइलाजकेदौरानमौतहोगई,वहडेंगूसेग्रसितथा।गांवमेंअबभीलगभगदोदर्जनसेअधिकलोगबुखारसेपीड़ितहैं।

गांवकीआयशा,रिया,सूफियान,जगदीश,वैष्णवी,मुस्कान,सुशीला,अनन्या,रिकी,तनू,रागिनी,सचिन,राकेश,नीलेश,निखिल,प्रियंकाआदिदोदर्जनसेअधिकलोगबुखारसपीड़ितहैं।गांवमेंगंदगीभीपसरीहुईहै

डेंगूसेमौतकेबादस्वास्थ्यविभागद्वारागांवमेंमच्छरोधीदवाओंकाछिड़कावकरवायागया।प्रभारीचिकित्साअधिकारीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रबेलहरकलाकेनेतृत्वमेंबुखारसेपीड़ितव्यक्तियोंकेबारेमेंसर्वेभीकरवायागया।इसकेबादपीड़ितोंकेरक्तकानमूनाएकत्रकरनेकाभीकार्यहुआ।

पीएचसीबेलहरकेडा.राजेशचौधरीनेबतायाकिडेंगूकेमच्छरकोटाइगरमास्कीटोकहतेहैं।यहटाइगरकीतरहचितकबरेहोतेहैंऔरदिनमेंहीकाटतेहैं।यहमच्छरसाफसुथरेऔररुकेहुएपानीमेंहीपनपतेहैं।बचावकेलिएलोगोंकोकूलरतथागमलेआदिकापानीबराबरबदलतेरहनाचाहिए।बुखारहोनेपरसरकारीअस्पतालोंमेंदिखाएं।अप्रशिक्षितचिकित्सकोंसेइलाजकरवानेपरदर्दनिवारकदवाओंकीभारीखुराकपहलेहीदेदीजातीहै।यहदवाएंप्लेटलेट्सकोबढ़नेसेरोकतीहैं।

By Duncan