शामली,जेएनएन।सुबह-दोपहरवाहनोंपरनियमोंकाउल्लंघनकरतेछात्र-छात्राओंकोदेखकरलगताहैकिनतोइनकेअभिभावकोंकाइसओरकोईध्यानहैऔरनहीस्कूलमेंशिक्षकोंका।लगातारछात्र-छात्राएंनियमोंकाउल्लंघनकररहेहैं।रोजानाहोनेवालेसड़कहादसोंकायहभीप्रमुखकारणहै।अधिकारीकाभीइसओरकोईध्याननहींहै।कईस्कूलोंकेआसपासअवैधपार्किंगचलरहीहै,जिनमेंछात्र-छात्राएंवाहनखड़ेकरतेहै।

यातायातनियमोंकाउल्लंघनकरनेमेंसबसेज्यादायुवावर्गशामिलहै।सुबह-दोपहरस्कूलसेआते-जातेछात्रयातायातनियमोंकाखूबउल्लंघनकरतेहैं।दरअसल,जिलेकेस्कूल-कालेजोंमेंकरीब40फीसदछात्र-छात्राएंअपनेनिजीवाहनोंसेआते-जातेहैं।इनमेंअधिकतरछात्र-छात्राएंऐसेहैं,जोस्कूटी,बाइकोंसेस्कूलआतेहैं,लेकिनस्कूलोंकीसख्तीकेचलतेस्कूलोंमेंवाहननहींखड़ेकराएजाते।ऐसेमेंछात्र-छात्राओंनेस्कूलकेआसपासहीअवैधपार्किंगबनालीहैऔररोजानावाहनखड़ेकरतेहैं।ऐसेछात्र-छात्राएंसुबहरोजानास्कूलजातेसमयनतोहेलमेटलगातेहैंऔरनहीउनकेपासवाहनोंकेकागजहोतेहैं।

दोपहरकेसमयशहरकेकैरानारोड,खेड़ीकरमू,नहरपुल,फव्वाराचौक,दिल्लीरोड,धीमानपुरारोड,एमएसकेरोडआदिमार्गोपरफर्राटाभरतेवाहनव्यवस्थाकोमुंहचिढ़ातेदिखतेहैं।स्कूल-कालेजोंकीछुट्टीहोनेकेबादनियमोंकीअनदेखीपरअफसरभीआंखबंदकरकेअपनेकार्यालयोंमेंबैठेरहतेहैं।यहीकारणहैकिसड़कहादसोंकीसंख्यामेंतेजीआरहीहै।

स्कूलतकहीजिम्मेदारीसमझतेहैस्कूलसंचालक

छात्र-छात्राएंस्कूलमेंकिसवाहनपरआरहेहैं,औरकैसेघरजारहेहैं,इसमेंस्कूल-प्रशासनकेवलस्कूलकेअंदरतकहीअपनीजिम्मेदारीसमझतेहैं।स्कूलसंचालकोंसेबातचीतहुईतोउन्होंनेकहाकिहमस्कूलपरिसरमेंवाहनोंकोखड़ानहींहोनेदेतेबाहरक्याहोरहाहै,इसमेंहमारीकोईजिम्मेदारीनहीं,अभिभावकोंकोइसओरध्यानदेनेकीजरूरतहै।

अवैधपार्किंगपरकबहोगीकार्रवाई?

स्कूलोंकेआसपासछात्र-छात्राओंकेवाहनोंकोखड़ाकरनेकेलिएअवैधपार्किंगबनाईगईहै।ऐसेमेंकईजगहतोनिश्शुल्कतोकईजगह10रुपयेप्रतिदिनदेकरछात्रअपनेवाहनोंकोखड़ाकरतेहैं।स्कूलोंमेंवाहनलेकरआनेवालेअधिकांशछात्र-छात्राओंकेपासनतोडीएलहोताहैऔरनहीहेलमेट।

हादसेकेबादजागतेहैंअभिभावक

रोजानाबच्चेस्कूलकिसवाहनसेजारहेहैं,कैसेजारहेहैं।इसओरअभिभावकभीध्यानदेनेमेंज्यादालापरवाहीकरतेहैं।कुछछात्र-छात्राएंऐसेभीहैं,जोअपनेदोस्तोंकेसाथवाहनोंपरस्कूलमेंआना-जानाकरतेहैं।कोईहादसाहोनेकेबादहीअभिभावकोंकीआंखखुलतीहै।जिसमेंअभिभावकोंकोभीबच्चोंपरध्यानदेनेकीजरूरतहै।

ट्रिपलराइडिगपरकार्रवाईसेबचतेहैपुलिसकर्मी

स्कूलमेंआते-जातेऔरशामकोट्यूशनकेदौरानछात्र-छात्राएंशहरकेकाकानगर,साकेतकालोनी,सीबीगुप्ताकालोनी,एमएसकेरोड,दिल्लीरोडपरट्रिपलराइडिगकरतेहुएभीकईयुवादेखेजातेहैं,लेकिननतोसड़कोंपरखड़ीपुलिसउनकोरोकतीहैऔरनहीउनकेअभिभावकइसओरकोईध्यानदेतेहै।स्कूलऔरकोचिगकरानेवालेशिक्षकोंकोभीकेवलअपनीफीससेहीमतलबहोताहै।