बहराइच:जिलेकेपरिषदीयविद्यालयोंमेंतैनातशिक्षकअबस्कूलछोड़करबीआरसीयादूसरेकार्यालयोंमेंसंबद्धनहींरहसकेंगे।इसकेलिएविभागनेसंबद्धीकरणनिरस्तकरनेकेआदेशजारीकिएहैं।इसकदमसेशिक्षकोंमेंहड़कंपहै।सीएमकेआगमनपरशिक्षकोंकोलेकरउठेसवालपरविभागनेयहकदमउठाएहैं।

जिलेमें2570प्राथमिकव983जूनियरविद्यालयहैं।इनमेंशिक्षकोंकाटोटाहोनेकेकारणपढ़ाईव्यवस्थासुचारुरूपसेनहींहोपारहीहै।कहींकईशिक्षकतैनातहैंतोकहींएकशिक्षकपर100सेअधिकबच्चोंकोपढ़ानेकाजिम्माहै।पिछलेदिनोंजिलेकेदौरेपरआएसीएमयोगीआदित्यनाथनेभीपुलिसलाइनस्थितप्राथमिकवउच्चप्राथमिकविद्यालयोंकानिरीक्षणकियाथा।इसदौरानउन्हेंपठन-पाठनसहीनहींमिलाथा।जिलेमेंबड़ीसंख्यामेंशिक्षकस्कूलोंमेंनपढ़ाकरबीआरसीवकार्यालयोंमेंसंबद्धहैं।इसकेकारणभीपढ़ाईव्यवस्थाचौपटहोरहीहै।इसमेंसुधारकेलिएसरकारनेफरमानजारीकिएहैं।बीएसएएसकेतिवारीनेबतायाकिबेसिकशिक्षापरिषदकेसचिवनेशिक्षकोंकीसंबद्धतासमाप्तकरनेकेलिएनिर्देशजारीकिएथे।उन्होंनेबतायाकिसभीबीईओकोपत्रजारीकरजोशिक्षकतैनातकहींहैंऔरउनकीसंबद्धतादूसरेकार्यालयोंमेंहैं,उनकीसूचीबनाकरउन्हेंकार्यमुक्तकरनेकेनिर्देशदिएगएहैं।उन्होंनेबतायाकिपरिषदीयविद्यालयोंमेंसमयसेनपहुंचनेवालेशिक्षकोंपरभीकार्रवाईकीजाएगी।सुधारकेलिएहरसंभवप्रयासकिएजारहेहैं।

By Edwards