जागरणसंवाददाता,पिथौरागढ़:धारचूलाकेविधायकहरीशधामीनेकहाकिमेले,महोत्सवोंऔरउत्सवोंकोराजनीतिकअखाड़ानहींबनानाचाहिए।उन्होंनेजौलजीवीमेलेमेंसांस्कृतिककार्यक्रमोंकेदौरानकिसीतरहकाविरोधनहींजताया।

धामीनेऊनीहस्तशिल्पएवंहथकरघासंस्थाकेकार्यक्रमकेदौरानपंचेश्वरबांधपरगाएगएगानेपरअपनेद्वाराकिसीतरहकाविरोधनहींकरनेकीबातकहीहै।उन्होंनेबतायाकिजिससमययहकार्यक्रमहोरहाथावहअन्यकार्यकेलिएमंचपरहीमौजूदनहींथे।उन्होंनेसंस्थाद्वाराइसेविरोधबतादिया।विधायकनेकहाकिउनकाकिसीसेविरोधनहींहै।सांस्कृतिककार्यक्रमकामतलबआनंदउठानाहोताहै।धामीनेकहाकिपंचेश्वरबांधपरियोजनाकेसंबंधमेंउन्होंनेअपनीरायपहलेहीजाहिरकरदीहै।

विधायकनेकहाकिकार्यक्रमकेसंयोजकमंचपरनहींहोनेकोविरोधसमझरहेहैं।वहक्षेत्रकेचुनेहुएजनप्रतिनिधिहैं।उनकेक्षेत्रमेंमेलेकाआयोजनहोरहाहै।उनकेलिएसभीसमानहैं।संयोजकोंद्वाराइसेदूसरेअर्थोमेंलियागया।क्षेत्रमेंबांधसमर्थकभीहैंतोबांधकेविरोधीभीहैं।विरोधियोंद्वारापंचेश्वरबांधपरगाएगीतमेंआपत्तिजतानेकोसीधेकांग्रेसपरमढ़नागलतहैं।जागरणसेबातकरतेहुएधामीनेकहाकियहबांधसमर्थनऔरविरोधकामंचनहींहै।मेलेकामंचहै,जिसेकुछलोगराजनीतिकाअखाड़ाबनानेपरतुलेहैं।जोपरंपराकेखिलाफहै।

By Dunn