-आइएएसअधिकारीबननाचाहतीहैपल्लवी

साइंससंकायमेंछठास्थानप्राप्तकरनेवालीमिनर्वावरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींकीपल्लवीआइएएसअधिकारीबनकरगरीबवपिछड़ेवर्गकेलिएकार्यकरनीचाहतीहैं।पल्लवीकेपिताअमर¨सहदुकानदारहैं,जबकिमातासरितादेवीगृहिणीहैं।पल्लवीनेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेमाता-पितावगुरूजनोंकोदियाहै।

डॉक्टरबननाचाहतीआकांक्षा

साइंससंकायमेंसातवांस्थानहासिलकरनेवालीमिनर्वावरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींकीछात्राआकांक्षाशर्माडॉक्टरबननाचाहतीहैं।उनकासपनाहैकिवहचिकित्सकबनकरलोगोंकीसेवाकरे।आकांक्षाकेपिताबलदेवराजकीयवरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींमेंअर्थशास्त्रकेप्रवक्ताहैं,जबकिमातानीतादेवीगृहिणीहैं।आकांक्षानेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेमाता-पिता,बुजुर्गोंवस्कूलअध्यापकोंकोदियाहै।

आइएएसअधिकारीबनदेशकीसेवाकरनाचाहतीहैलखिता

साइंससंकायमेंआठवांस्थानप्राप्तकरनेवालीमिनर्वावरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींकीछात्रालखिताखिड़ताआइएएसअधिकारीबनकरदेशकीसेवाकरनाचाहतीहैं।लखिताकेपितारामप्रकाशवमातासंधिरादोनोंअध्यापकहैं।जिलाशिमलाकेरहनेवालीलखितानेअपनीइसउपलब्धिकाश्रेयअपनेअध्यापकोंवमाता-पिताकोदियाहै।

आइएसएसबननाहैअपराजिताकासपना

साइंससंकायमेंआठवांस्थानहासिलकरनेवालीमिनर्वावरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींअपराजिताआइएएसअधिकारीबननाचाहतीहैं।अपराजिताकेपितासंजीवव्यवसायीहैं,जबकिजबकिमाताविचारसनीगृहिणीहैं।उन्होंनेअपनीसफलताकाश्रेयमाता-पितावगुरुजनोंकोदियाहै।

कनिकाबननाचाहतीहैआइएएसअधिकारी

साइंससंकायमेंनौवेंस्थानपररहनेवालीमिनर्वावरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाघुमारवींकीछात्राकनिकाकासपनाआइएएसअधिकारीबननाहै।कनिकाकेपितातीर्थभारद्वालचंडीगढ़मेंएकनिजीकंपनीमेंकार्यरतहैंजबकिमाताअंबिकगृहिणीहैं।कनिकानेअपनीइसउपलब्धिकाश्रेयअपनेपरिजनोंवप्रधानाचार्यप्रवेशचंदेलकोदियाहै।

डॉक्टरबननादीपालीकासपना

साइंससंकायमें10वेंस्थानपररहीसरस्वतीविद्यामंदिररौड़ासेक्टरबिलासपुरकीछात्रादीपालीडॉक्टरबननाचाहतीहैं।इसकेलिएवहशिमलामेंविद्यापीठसंस्थानसेपीएमटीकीको¨चगलेरहीहैं।दीपालीकेपिताधर्मपालप्रदेशसचिवालयमेंअधीक्षककेरूपमेंकार्यकरतेहैं,जबकि,मातापूनमशर्मागृहिणीहैं।दीपालीअपनाअधिकतरसमयपढ़ाईमेंदेतीहैं।साथहीगानेसुननेकाभीशौकरखतीहैं।

सीएबननाहैगौरीकासपना.

कॉमर्ससंकायमेंनौवांस्थानप्राप्तकरनेवालीराजकीयवरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाबरठींकीछात्रागौरीशर्माकासपनासीएबननेकाहै।वहकॉपोरेटसेक्टरमेंसेवाएंदेनाचाहतीहैं।गौरीकेपितामदनलालइंडस्ट्रीमेंनौकरीकरतेहैं,जबकिमाताशर्मिलादेवीगृहिणीहैं।वहखेलगतिविधियोंमेंभीअव्वलरहतीहैं।बरठींस्कूलकीकबड्डीटीमकीधुरंधरखिलाड़ीरहतेहुएगौरीजूनियरनेशनलखेलचुकीहैं।