जागरणसंवाददाता,पानीपत:विश्वकैंसरदिवसपरदैनिकजागरणकीओरसेप्लाटनंबर10,सेक्टर-29पार्ट-टूस्थितकार्यालयमेंहेलोजागरणकाआयोजनहुआ।प्रेमकैंसरअस्पतालमेंकीमोथेरेपीएवंरेडिएशनऑन्कोलॉजीविशेषज्ञडा.अभिनवमुटनेजानेसुधीपाठकोंकेप्रश्नोंकेउत्तरदिए।उन्होंनेबतायाकिजिलेकीमहिलाओंमेंब्रेस्ट-सर्वाइकल,पुरुषोंमेंमुख-गलेकाकैंसरज्यादाहैं।प्रथमसेतृतीयस्टेजतकभीसमयसेसर्जरीहोजाएतोमरीजकीजानबचसकतीहै।बतादेंकिडा.मुटनेजादोवर्षोंमें500सेअधिकमरीजोंकासफलइलाजकरचुकेहैं।किशनपुरासेकुंवरपालनेपूछाकिगलारुकगयाहै।सफेदरंगकाबलगमआताहै।एकअस्पतालमेंइलाजचलरहाहै,लाभनहींहै।

बीड़ी-सिगरेटकासेवननहींकियाहैतोकैंसरकीसंभावनाकमहै।एकबारदूरबीनसेटेस्टजरूरकराएं।रोजानासुबह-शामगर्मपानीकीभापलेतेरहें।सेक्टर-सातसेअशोककुमारनेकहाकिकरीबछहमाहतकगुटकाकासेवनकियाथा।अबकुछकीचटपटाखाताहूंतोजीभऔरमुंहकेअंदरतेजजलनहोतीहै।

गुटकामेंएडेबलएसिडहोताहै।यहमुंहकीत्वचाकेसेल्सकोसंवेदनशीलबनादेताहै।मुंहमेंछालानहींहैतोकैंसरकीगुंजाइशबहुतकमहै।गुटकानखाएं,छहमाहमेंठीकहोजाएंगे।जौंधनखुर्दसेहेमराजनेकहाकिचारसालपहलेगलेकेकैंसरकाआपरेशनहुआथा।रोटीकाछोटासाटुकड़ाभीबिनापानीकेगलेसेनीचेनहींउतरता।

इलाजकेदौरानरेडिएशनसेलारवालीग्रंथीसूखजातीहै।सबसेपहलेदूरबीनवालासालानाचेकअपकराएं।लारबने,इसकेलिएआपदिनमेंएक-दोटॉफीचूससकतेहैं।माडलटाउनसेप्रिसीनेपूछाकिउनकीएकमित्रकेस्तनमेंगांठहै।खुदकोकैसेपतालगेकियहकैंसरतोनहींहै।

सभीगांठकैंसरनहींहोती।गांठमेंदर्दहोताहै,दबानेपरमवादयाखूननिकलताहैतोयहकैंसरकीप्रथमस्टेजहोसकतीहै।चेकअपजरूरकरानाचाहिए।सेक्टर-छहसेअभयनेपूछाकिपानीपतमेंकौनसेकैंसरकेरोगीअधिकहैं,इसकामुख्यकारणक्याहै।

महिलाओंमेंब्रेस्ट-सर्वाइकल,पुरुषोंमेंमुख-गलेकाकैंसरज्यादाहैं।खराबजीवनशैली,भूजल-वायुप्रदूषणऔरगलतखानपानइसकीमुख्यवजहहै।सेक्टर-12निवासीरजनीनेपूछाकिक्याकैंसरजेनेटिकरोगहै।बच्चोंमेंकिसप्रकारकाकैंसरअधिकपायाजाताहै।

कैंसरजेनेटिकभीहोताहै,खासकरब्रेस्टकैंसर।मेरेपासअभीतककैंसरकेजोबालरोगीआएहैंउन्हेंब्लडऔरलिम्फोमाकेहैं।तहसीलकैंपसेश्रीकांतनेपूछाकिसर्जरीकेबादभीकैंसरदोबाराहोसकताहै।रोगीकेबचनेकीकितनीसंभावनारहतीहै।

प्रथमस्टेजमें95,द्वितीयमें80,तृतीयमें70फीसदजानबचनेकीसंभावनारहतीहै।चतुर्थस्टेजमेंयहउम्मीदशून्यहोजातीहै।सर्जरीकेबाददोबाराकैंसरकेमात्रपांचफीसदहीगुंजाइशहै।संक्षिप्तपरिचय:

नाम:डा.अभिनवमुटनेजा

एमडी:एफयूआइसीसी(इटली)रेडिएशनऑन्कोलॉजी

अनुभव:वर्ष2016-18तकराजीवगांधीकैंसरअस्पताल,दिल्ली

अबप्रेक्टिस:मार्च2019सेप्रेमकैंसरअस्पताल,पानीपतसर्वाइकलकैंसरसेबचाव

ब्रेस्टकैंसरकेबादसबसेअधिकमहिलाओंमेंसर्वाइकलकैंसरहै।महिलाकेगर्भाशयकीकोशिकाओंमेंअनियमितवृद्धिहोनेलगतेहै,जोधीरे-धीरेकैंसरकारूपलेलेतीहै।इसकामुख्यकारकह्यूमनपेपिलोमावायरसहै।नौसालसे25सालकीआयुमेंएचपीवीवैक्सीनकेदोटीकेलगनेसेसर्वाइकलकैंसरकीसंभावनाबहुतकमरहतीहै।कैंसरकेमुख्यप्रकार

यूंतोकैंसर200प्रकारकाबतायागयाहै।भारतमेंमुख्यत:मुखकाकैंसर,सर्वाइकलकैंसर,ब्रेस्टकैंसर,ब्रेनकैंसर,फेफड़ोंकाकैंसर,प्रोस्टेटकैंसर,पैनक्रियाटिककैंसरकेमरीजज्यादाहैं।पुरुषोंकोभीछातीकाकैंसर

महिलाऔरपुरुषदोनोंकेब्रेस्टमेंटिश्यूहोतेहैं।महिलाओंमेंकईतरहकेहार्मोन्सहोनेसेटिश्यूबढ़करपूरेब्रेस्टकारूपलेलेतेहैं।पुरुषोंमेंब्रेस्टकोबढ़ानेवालेहार्मोननहींहोते।पुरुषवर्गछातीमेंहोनेवालीगांठ-दर्दकोनजरअंदाजकरदेतेहैं।यहीकारणहैकिपुरुषोंमेंछातीकेकैंसरकीपहचानआखिरीस्टेजमेंहोतीहै।

By Douglas