प्रदीपउलधन,बुलंदशहर।शिवानीनेएकमजदूरकेघरमेंजन्मलिया।गांवमेंसुख-सुविधासिफर,लेकिनशिवानीकेइरादेआसमानीहैं।प्रथमश्रेणीसेइंटरपासकी।केनोइंगखेलमेंकरीबदर्जनभरपदकहासिलकिए।इनउपलब्धियोंपरसरकारनेउन्हेंसीमासुरक्षाबल(एसएसबी)मेंकांस्टेबलपदपरतैनातकिया।शिवानीकीइसकामयाबीसेउसकापरिवारगर्वमहसूसकरताहै।

जिलेकीसिकंदराबादतहसीलकेगांवमहीपाजहांगीरनिवासीशिवानीकेपिताभूमिहीनकिसानहैं।वहकृषिभूमिठेकेपरलेकरखेतीकरकेपरिवारपालतेहैं।परिवारमेंशिवानीकेअलावाउसकेएकबड़ाभाईवदोबहनहै।सभीभाई-बहनअभीपढ़ाईकररहेहैं।मांगृहणीहैं।शिवानीकेमामाशांतिस्वरूपकेनोइंगकेराष्ट्रीयखिलाड़ीहैं।मामीलांजेनगाम्बीअंतर्राष्ट्रीयस्तरकीकेनोइंगखिलाड़ीहैं।साल2016मेंशिवानीनेइंटरमीडिएटप्रथमश्रेणीसेपासकिया।इसकेबादवहअपनेमामाकेपासरुड़कीजाकररहनेलगी।

मामाकीप्रेरणासेशिवानीकाकेनोइंगकीओररुझानहुआ।कोचपीयूषशर्माकीदेखरेखमेंअभ्यासशुरूकिया।साल2016मेंहिमाचलप्रदेशमेंआयोजितराष्ट्रीयस्तरकीप्रतियोगितामेंप्रतिभागकिया।उत्तरप्रदेशकीओरसेखेलतेहुएउन्होंनेकुलछहस्वर्णपदकजीते।साल2017मेंइंदौरमेंआयोजितराष्ट्रीयचैम्पियनशिपमेंसीनियरवर्गमेंशिवानीनेएकब्रॉन्जपदकजीता।जनवरी2018मेंभोपालमेंतीनसिल्वरपदकजीते।प्रत्येकप्रतियोगितामेंउत्कृष्टप्रदर्शनकरनेपरसरकारनेशिवानीकोसम्मानस्वरूपएसएसबीमेंकांस्टेबलपदपरतैनातकरनेकीघोषणाकी।

खेलकीखबरोंकेलिएयहांक्लिककरें

क्रिकेटकीखबरोंकेलिएयहांक्लिककरें

By Farmer